भारत ने जिम्बाब्वे को आखिरी टी-20 मैच में 42 रनों से हराया और 4-1 की जीत के साथ शृंखला पर कब्जा जमाया केंद्रीय वित्त मंत्रालय की मंजूरी से महिला आईआरएस अधिकारी पुरुष बनी..! अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भाषण के दौरान चली गोलियां, बाल-बाल बचे..सुरक्षा अधिकारियों ने हमलावरों को किया ढेर आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की अष्ठमी तिथि सायं 05:26 बजे तक तदुपरांत नवमी तिथि प्रारंभ यानी रविवार, 14 जुलाई 2024
तहलका मचा दिया,सिमटी शर्माई सी दुल्हन की जगह स्टेज पर काला चश्मे पहने इस बुलेटसवार बींदणी ने..!

अजब-गजब

तहलका मचा दिया,सिमटी शर्माई सी दुल्हन की जगह स्टेज पर काला चश्मे पहने इस बुलेटसवार बींदणी ने..!

अजब-गजब//Rajasthan/Kota :

राजस्थान के कोटा संभाग के बारां जिले में एक ऐसी शादी हुई है, जहां दुल्हन फेरे लेने के लिए बुलट मोटरसाइकिल चलाकर मंडप में पहुंची।  दुल्हन के ये  रूप  देखकर शादी समारोह में मौजूद लोग हैरान रह गए और उसके वीडियो बनाने लगे। देखते ही देखते ये बिंदास बींदणी वायरल हो गयी। 

जानकारी के अनुसार यह शादी बारां जिले के छबड़ा में दो दिन पहले हुई है। इस शादी ने इलाके में खूब सुर्खियां बटोरी हैं। इस शादी के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहे हैं। छबड़ा के चंद्रशेखर कॉलोनी निवासी दुल्हन कामेक्षा जांगिड़ ने अपने दूल्हे सुनील जांगिड़के साथ घोड़ी पर बैठकर निकासी निकाली। उसके अगले दिन दुल्हन काला चश्मा लगाए बुलेट मोटरसाइिकल पर सवार होकर दूल्हे से शादी रचाने के लिए स्टेज पर पहुंच गयी। मंडप में दुल्हन की इस धमाकेदार एंट्री से मेहमान हैरान रह गए।  वहां मौजूद मेहमानों ने दुल्हन के इस रूप के जमकर फोटो लिये और वीडियो बनाए। ये शादी इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है.

शादी के पहले निकासी भी अलग अंदाज़ में 
पहले तो इस शादी की बिंदौली (निकासी) चर्चा में रही।  बिंदौली में केवल दूल्हा ही नहीं बल्कि दुल्हन भी उसके साथ घोड़े पर बैठी नजर आई। यह नजारा देखकर राहगीर भी चौंक गए। उसके बाद अगले दिन जो हुआ वह भी चर्चा का विषय बना हुआ है। 

पिता की ख्वाहिश पूरी करने के लिए अपनाया ये अंदाज़
दरअसल पेशे से शिक्षक दुल्हन के पिता गोविंद जांगिड़ के कोई बेटा नहीं है। उन्होंने अपनी चार बेटियों का बेटों की तरह ही लालन-पालन किया है। गोविंद जांगिड़ का कहना है कि उन्होंने बेटियों को बेटों के बराबर का दर्जा दिया है। वे चाहते हैं बेटियों-बेटों की तरह अपने सभी अरमान पूरे करें। 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments