भारत ने जिम्बाब्वे को आखिरी टी-20 मैच में 42 रनों से हराया और 4-1 की जीत के साथ शृंखला पर कब्जा जमाया केंद्रीय वित्त मंत्रालय की मंजूरी से महिला आईआरएस अधिकारी पुरुष बनी..! अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भाषण के दौरान चली गोलियां, बाल-बाल बचे..सुरक्षा अधिकारियों ने हमलावरों को किया ढेर आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की अष्ठमी तिथि सायं 05:26 बजे तक तदुपरांत नवमी तिथि प्रारंभ यानी रविवार, 14 जुलाई 2024
NEET PG Exam : स्थगित नहीं होगी नीट पीजी की परीक्षा..!  सुप्रीम कोर्ट ने  रद्द की परीक्षा स्थगित की मांग वाली याचिका 

NEET PG Exam

www.newsthikana.com

अदालत

NEET PG Exam : स्थगित नहीं होगी नीट पीजी की परीक्षा..! सुप्रीम कोर्ट ने  रद्द की परीक्षा स्थगित की मांग वाली याचिका 

अदालत//Delhi/New Delhi :

NEET PG Exam : कोर्ट ने सोमवार को सत्रह डॉक्टरों की एक याचिका खारिज कर दी, जिसमें 5 मार्च, 2023 को होने वाली राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) स्नातकोत्तर परीक्षा को स्थगित करने की मांग की  गयी थी। अब निर्धारित शिडूल के मुताबिक NEET PG 2023 Exam  5 मार्च 2023 को होंगी |

याचिकाकर्ता सत्रह डॉक्टरों ने यह कहते हुए शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया था कि पात्रता मानदंड को राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड (एनबीई) द्वारा दो बार संशोधित किया गया था, जो  कि यह दिखाता है कि राज्य के चिकित्सा निकायों और एनबीई में आपसी तालमेल और प्रबंधन उचित नहीं है। इसके परिणामस्वरूप, उम्मीदवारों को तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं मिला। 

याचिकाकर्ताओं ने तर्क दिया कि उम्मीदवारों को एनबीई की गलती के कारण पीड़ित नहीं होना चाहिए। यह सबसे विनम्रतापूर्वक प्रस्तुत किया गया है कि एनबीई ने पात्रता के सबसे महत्वपूर्ण पहलू में से एक के बारे में सभी राज्य चिकित्सा परिषदों के साथ जांच किए बिना विवादित नोटिस जारी किया। याचिकाकर्ताओं ने कहा कि एनबीई की ओर से गलती के कारण ही उम्मीदवारों को अंतिम समय में अराजकता और भ्रम का सामना करना पड़ा। नीट पीजी के इतिहास में कभी भी परीक्षा की तारीख और काउंसलिंग की तारीख के बीच 5 महीने का अंतर नहीं था।

इस पर जस्टिस एस रवींद्र भट और दीपांकर दत्ता की पीठ ने कहा कि किसी को दोबारा कोशिश करने से कोई नहीं रोकता। इस दुनिया में कुछ भी किसी को फिर से प्रयास करने से नहीं रोकता है। यह [NEET मानदंड] एक विकासवादी प्रक्रिया है। कभी-कभी यह गलत हो सकता है।"

बता दें की नीट पीजी परीक्षा के ज़रिये ही एमडी, एमएस, पीजी डिप्लोमा, पीजी डीएनबी इत्यादि कोर्सेज में एडमिशन मिलता है। हर साल लाखों की संख्या में एमबीबीएस डिग्री धारक डॉक्टर्स इन स्नातकोत्तर कोर्सेज में दाखिले के लिए ये परीक्षा देते हैं।  इस वर्ष भी दो लाख से भी ज्यादा छात्र ये परीक्षा देंगे। 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments