झारखंड के साथ याद आते हैं नोटों के पहाड़, जमशेदपुर में बोले पीएम मोदी आंध्र प्रदेश: नेल्लोर में लॉरी से टकराई RTC बस, हादसे में 2 लोगों की मौत गोवा: BJP नेता बिकम हाथरे को कर्नाटक सीसीबी पुलिस ने किया गिरफ्तार केजरीवाल मौजूदा PM को सीधे चुनौती दे रहे हैं...ये आसान काम नहीं है: सलमान खुर्शीद AAP ने प्रदर्शन के लिए नहीं ली कोई परमिशन, बीजेपी ऑफिस के आसपास लगी रहती है धारा 144: दिल्ली पुलिस BJP मुख्यालय के बाहर 3 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां तैनात, AAP ने किया था प्रदर्शन का ऐलान
'सिद्धू ने गिफ्ट की थी भगवंत मान को पंजाब सीएम की कुर्सी ', नवजोत सिद्धू की पत्नी के दावे से मचा बवाल 

सिद्धू ने सीएम की कुर्सी भगवंत मान को गिफ्ट की

राजनीति

'सिद्धू ने गिफ्ट की थी भगवंत मान को पंजाब सीएम की कुर्सी ', नवजोत सिद्धू की पत्नी के दावे से मचा बवाल 

राजनीति//Delhi/ :

नवजोत सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने दावा किया है कि सिद्धू अपनी पार्टी कांग्रेस को धोखा नहीं देना चाहते थे, इसलिए उन्होंने केजरीवाल द्वारा ऑफर की गयी पंजाब मुख्यमंत्री का पद ठुकरा दिया था।नवजोत कौर के इस बयान से पंजाब की राजनीति में उथल-पुथल मच गई है। नवजोत कौर ने कहा है कि उनके पति नवजोत सिद्धू ने सीएम की कुर्सी भगवंत मान को 'गिफ्ट' की है।  नवजोत का दावा है कि सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल चाहते थे कि उनके पति पंजाब को लीड करें।  लेकिन सिद्धू कांग्रेस को धोखा नहीं देना चाहते थे और इसलिए उन्होंने इस ऑफर को ठुकरा दिया था। 

नवजोत कौर विधायक होने के साथ पंजाब सरकार में मंत्री भी रह चुकी हैं। उन्होंने शुक्रवार, 9 जून को तीन ट्वीट्स कर नवजोत सिद्धू और भगवंत मान से जुड़े कई दावे किए। वो लिखती हैं,

"सीएम भगवंत मान, मैं आज आपके लिए एक राज खोलती हूं। आपको पता होना चाहिए कि आप जिस इज्जतदार कुर्सी पर अभी बैठे हैं, वो आपको आपके बड़े भाई सिद्धू पाजी ने गिफ्ट की है। आपके सबसे सीनियर लीडर खुद चाहते थे कि सिद्धू पंजाब को लीड करें (यानी पंजाब के मुख्यमंत्री बनें)

सिद्धू का पंजाब के प्रति जो जुनून है, उसके बारे में केजरीवाल जानते है। उन्होंने कई माध्यमों से सिद्धू को अप्रोच किया था। सिद्धू अपनी पार्टी को धोखा नहीं देना चाहते थे। उन्हें लगता था पंजाब की प्रगति के लिए स्ट्रैटेजी बनाने पर दो बड़े नेताओं का टकराव हो सकता है। इसलिए उन्होंने आपको मौका दिया। 

सिद्धू सिर्फ पंजाब की भलाई चाहते हैं। उन्होंने इसके लिए अपना सब कुछ कुर्बान कर दिया। आप सच्चाई की राह पर चलिए, वो आपको सपोर्ट करते रहेंगे। आप जैसे ही राह भटकेंगे, वो हर तरफ से आप पर अटैक करेंगे। वो एक गोल्डन पंजाब का सपना देखते हैं और पूरे दिन, पूरी रात उसी को लेकर जीते हैं। "<

CM , Bhagwant Mann ; let me today open out a hidden secret from your treasure hunt. You should know that the very honourable chair you are occupying has been gifted to you by your big brother, Mr Navjot Sidhu. Your very own senior most leader had desired Navjot to lead Punjab 1/3

— DR NAVJOT SIDHU (@DrDrnavjotsidhu) June 9, 2023

2/2. Mr Kejriwal through various channels approached him to lead Punjab knowing about his passion for our state. Just because he didn’t want to betray his party and thought that 2 strong headed people might clash when it came to strategy to uplift Punjab, he gave you a chance.2/3

— DR NAVJOT SIDHU (@DrDrnavjotsidhu) June 9, 2023

3/3. His only concern is the welfare of Punjab and he has sacrificed everything for it. You tread on the path of TRUTH and he shall support you but the moment you deviate he will target you left and right. Golden Punjab state is his dream and he lives it 24 hours a day.3/3. Love.

— DR NAVJOT SIDHU (@DrDrnavjotsidhu) June 9, 2023

/p>


यूँ शुरू हुआ बवाल.. 
4 जून को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला थ।  उन्होंने कहा था कि सारे एक ही थाली के चट्टे-बट्टे है।  मान ने ट्वीट किया था,

"जिन्होंने जनरल डायर को खाना परोसा, जिन्होंने धार्मिक स्थलों पर टैंक चलवाए, जिन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान किया, जिन्होंने धर्म के नाम पर दंगे फैलाए, किसानों के खिलाफ कानून बनाने वाले... जब ये सब मुमकिन हो, तब इन्हें एक ही थाली का चट्टा-बट्टा कहना चाहिए "<

ਜਦੋਂ …
ਜਨਰਲ ਡਾਇਰਾਂ ਨੂੰ ਰੋਟੀਆਂ ਖਵਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਧਾਰਮਿਕ ਅਸਥਾਨਾਂ ਤੇ ਟੈਂਕ ਚੜਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਗੁਰੂ ਸਾਹਿਬ ਜੀ ਦੀਆਂ ਬੇਅਦਬੀਆਂ ਕਰਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਦੇਸ਼ ਨੂੰ ਧਰਮ ਦੇ ਨਾਮ ਤੇ ਲੜਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਕਿਸਾਨ ਵਿਰੋਧੀ ਕਾਨੂੰਨ ਬਣਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਸਮਗਲਰਾਂ ਨੂੰ ਗੱਡੀਆਂ ਚ ਬਿਠਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਗੱਲ ਗੱਲ ਤੇ ਤਾਲ਼ੀ ਠੁਕਵਾਉਣ ਵਾਲੇ
ਸ਼ਹੀਦਾਂ ਦੀਆਂ ਯਾਦਗਾਰਾਂ ਚੋਂ ਪੈਸੇ…

— Bhagwant Mann (@BhagwantMann) June 4, 2023

/p>

 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments