हमास के 11000 ठिकाने तबाह... इजरायल ने लाल सागर में भेजा युद्धपोत

सेना

हमास के 11000 ठिकाने तबाह... इजरायल ने लाल सागर में भेजा युद्धपोत

सेना/// :

इजरायल और हमास के बीच गाजा पट्टी में चल रहे युद्ध के 26वें दिन इजरायल ने हमास को टारगेट करते हुए हमलों को तेज कर दिया है। बुधवार को एक अमेरिकी यहूदी ने इजरायली सैनिकों के लिए 80 टन जरूरत का सामान भेजा है। बिना अपना नाम बताए इस यहूदी शख्स ने यह दान किया है। वहीं, इजरायल ने गाजा पट्टी के बाहर भी हमले किए हैं। आईडीएफ प्रवक्ता ने बताया कि उसकी ओर से बुधवार को लेबनान सीमा पर आतंकवादी दस्ते पर हमला किया गया, जिसमें आतंकियों के एक ठिकाने को खत्म कर दिया।

इजरायल ने गाजा चल रहे अपने सैन्य अभियान में बुधवार को हमास के कई ठिकाने तबाह कर दिए हैं। इजरायल ने बताया है कि उसने अब तक हमास के 11,000 ठिकाने नष्ट कर दिए हैं। जमीनी और हवाई हमलों में हमास के इन ठिकानों को तबाह किया गया है। इसके साथ ही इजरायल ने इस जंग को अब समुंद्र की ओर भी बढ़ा दिया है। इजरायल ने कहा है कि उसने लाल सागर में युद्धपोत भेजा है।
बुधवार को इंटरडेल लॉजिस्टिक्स यूएसए के विमान ने हमास के साथ युद्ध के बीच इजरायली सेना को बड़ी मदद पहुंचाई है। ये विमान इजरायली सैनिकों के लिए 80 टन आवश्यक उपकरण लेकर बुधवार को बेन गुरियन हवाई अड्डे पर उतरा। यह जरूरी सामान एक अमेरिकी यहूदी ने भिजवाया है, जिसने अपनी पहचान गुप्त रखने के लिए कहा है। इस मदद में चिकित्सा आपूर्ति, शीतकालीन गियर, थर्मल कपड़े और दूसरे सामान शामिल है। इंटरडेल लॉजिस्टिक्स ने इस महत्वपूर्ण योगदान को सुविधाजनक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
ईरान ने फिर दी हमले रोकने की धमकी
एक बार फिर गाजा में चल रहे युद्ध पर ईरान का बयान आया है। ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीराब्दुल्लाहियन ने बुधवार को अपने तुर्की समकक्ष के साथ एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान चेतावनी दी कि अगर गाजा पट्टी पर हमले जारी रहे तो कठोर परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि इजरायल को इन हमलों को तुरंत रोकना चाहिए। ऐसा ना होने पर ये जंग बहुत भयावह परिणाम देने वाला होगा।
लेबनान सीमा पर भी इजरायल के हमले
आईडीएफ प्रवक्ता की इकाई ने बताया है कि उसकी ओर से बुधवार को लेबनान सीमा पर आतंकवादी दस्ते पर हमला किया गया। लेबनानी सीमा से आईडीएफ सैनिकों पर टैंक रोधी मिसाइलें दागने की कोशिश की गई थी। इसके बाद इसे निशाना बनाकर इजरायली सेना ने हमला किया। जिसमें इस ठिकाने को नष्ट कर दिया गया।
विदेशी पर्यटकों के लिए खोला राफा क्रॉसिंग 
मिस्र ने बुधवार को घायल गाजावासियों और कुछ विदेशी पर्यटकों के लिए राफा क्रॉसिंग को खोल दिया है। गाजा पट्टी से सीमित निकासी की अनुमति देने के लिए मिस्र, इजरायल और हमास के बीच एक समझौते के बाद ये लोग निकले हैं। मिस्र की मीडिया ने बताया कि घायल निकाले गए लोगों का पहला समूह एम्बुलेंस में मिस्र में दाखिल हुआ। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि 7 अक्टूबर से अब तक इजरायली हमलों में 3,648 बच्चों सहित कम से कम 8,796 फिलिस्तीनी मारे गए हैं। इजरायल की ओर से कहा गया है कि उसके हमले हमास को खत्म करने के लिए हैं। हमास को खत्म करने तक ये हमले जारी रहेंगे।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments