ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
महादेव सट्टेबाजी ऐप सहित 22 गैरकानूनी ऐप और वेबसाइट किए गए ब्लॉक

क्राइम

महादेव सट्टेबाजी ऐप सहित 22 गैरकानूनी ऐप और वेबसाइट किए गए ब्लॉक

क्राइम //Chhattisgarh/Raipur :

महादेव ऐप के प्रमोटर के करीबी शुभम सोनी ने रविवार को एक वीडियो मैसेज में दावा किया है कि मैं ही महादेव बेटिंग ऐप का मालिक हूं।

महादेव ऑनलाइन सट्टेबाजी ऐप के मामले में सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। महादेव ऑनलाइन सट्टेबाजी ऐप सहित 22 गैरकानूनी ऐप और वेबसाइट को ब्लॉक कर दिया है। सरकार ने प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) के माध्यम से जारी बयान में कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) ने महादेव सट्टेबाजी ऐप और रेड्डीअन्नाप्रिस्टोप्रो सहित 22 अवैध सट्टेबाजी ऐप्स और वेबसाइटों के खिलाफ ब्लॉकिंग आदेश जारी किए हैं। 
इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने क्या कहा? 
इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार के पास धारा 69ए आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) अधिनियम के तहत वेबसाइट/ऐप को बंद करने की सिफारिश करने की पूरी शक्ति थी। हालांकि, उन्होंने ऐसा नहीं किया और राज्य सरकार द्वारा ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया गया है, जबकि वे इसकी जांच कर रहे हैं। वास्तव में, ईडी से पहला और एकमात्र अनुरोध प्राप्त हुआ है और उस पर कार्रवाई की गई है। 
एक प्रमोटर ने बघेल पर लगाए आरोप
सरकार ने कहा है कि यह कार्रवाई अवैध सट्टेबाजी ऐप सिंडिकेट के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय द्वारा की गई जांच और उसके बाद छत्तीसगढ़ में हुए छापे के आधार पर हुई है। अब तक की जांच में गैरकानूनी संचालन का खुलासा हुआ है। सरकार की यह कार्रवाई उस दिन हुई है जब मनी लॉन्ड्रिंग मामले के एक आरोपी ने दावा किया कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उसे यूएई जाने के लिए कहा था। आरोपी, शुभम सोनी, जो कथित मनी लॉन्ड्रिंग के लिए ईडी द्वारा वांछित है, ने दुबई से एक वीडियो बनाकर सीएम बघेल के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए हैं। 
कैसे चलता था महादेव ऑनलाइन बेटिंग ऐप से सट्टा?
अब तक इस केस में ईडी ने कई लोगों की गिरफ्तारी की है। इसमें दो सगे भाई सुनील दम्मानी, अनिल दम्मानी, छत्तीसगढ़ पुलिस का अधिकारी चंद्रभूषण वर्मा और सतीश चंद्राकर शामिल है। महादेव बेटिंग ऐप को दुबई में बैठकर छत्तीसगढ़ के भिलाई के रहने वाले सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल ऑपरेट करते थे। ये दोनों महादेव बेटिंग ऐप के प्रमोटर भी थे। मलेशिया, थाईलैंड हिंदुस्तान, यूएई में अलग-अलग बड़े शहरों में कॉल सेंटर खोले गए थे। इनके जरिए अलग-अलग सब्सिडी ऐप बनाकर ऑनलाइन सट्टा खिलाया जाता था।
बॉलीवुड कनेक्शन का भी आया है मामला
दरअसल, इसी साल फरवरी में दुबई में महादेव ऑनलाइन गेमिंग ऐप के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर की शादी थी, जिसमें चार्टर्ड प्लेन से तकरीबन 17 बॉलीवुड हस्तियों को बुलाया गया था। वहां उनका स्टेज परफॉर्मेंस भी था। आरोप है कि इस परफॉर्मेंस के बदले में तमाम सेलेब्स को करोड़ों रुपये दिए गए। रणबीर कपूर पर आरोप है कि उन्होंने महादेव ऑनलाइन बेटिंग ऐप की एक सपोर्टिंग ऐप को प्रमोट किया था। यही वजह है चंद्राकार की शादी में परफॉर्मेंस देने वाले सेलेब्स ईडी की जांच के दायरे में शामिल किए गए हैं।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments