आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह पूर्णिमा तिथि दोपहर 03:46 तक बजे तक यानी रविवार, 21 जुलाई 2024
5 न्याय और 25 गारंटी क्या कांग्रेस की बदलेगी तकदीर? घोषणापत्र से लौटेंगे राहुल के अच्छे दिन..?

राजनीति

5 न्याय और 25 गारंटी क्या कांग्रेस की बदलेगी तकदीर? घोषणापत्र से लौटेंगे राहुल के अच्छे दिन..?

राजनीति//Delhi/New Delhi :

देश में इन दिनों गारंटियों की बहार है। हर पार्टी चुनाव जीतने के लिए मतदाताओं को गारंटियां बांट रही है। कांग्रेस भी इसमें पीछे नहीं है। क्या ऐसा करने से राहुल गांधी के अच्छे दिन लौट पाएंगे।
 

जैसे-जैसे देश 18वीं लोकसभा के चुनाव के लिए आगे बढ़ रहा है, वैसे-वैसे गारंटियों का दौर भी तेज हो रहा है। पीएम मोदी जहां अपने वादों को पूरा होने की गारंटी दे रहे हैं तो कांग्रेस भी अपनी झोली से अनेक योजनाओं और वादों की गारंटी निकाल रही है। अब कांग्रेस ने चुनाव जीतने पर 5 न्याय और 25 गारंटी देने की घोषणा की है। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि इस घोषणापत्र से क्या राहुल गांधी के अच्छे दिन लौट आएंगे।
यात्रा में सुनी देश की आवाज- राहुल गांधी
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर पोस्ट करके लिखा, श्आज कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक में हमारे 5 न्याय और 25 गारंटियों समेत पार्टी के घोषणापत्र पर गहन चर्चा हुई। भारत जोड़ो यात्रा और भारत जोड़ो न्याय यात्रा के माध्यम से हम लगातार गांव-गांव, गली-गली लोगों के बीच गए और ‘देश की आवाज़’ सुनी। हमने लोगों के साथ हो रहे अन्याय और उनके जीवन के संघर्षों को करीब से जाना और समझा।श्
कांग्रेस की गारंटी खुशहाली का संकल्प
कांग्रेस नेता ने आगे लिखा, इसीलिए हमारा घोषणा पत्र और गारंटियां महज़ दस्तावेज नहीं, करोड़ों देशवासियों के साथ हुए संवाद से निकला रोडमैप है, जो रोज़गार क्रांति और अधिकारपूर्ण भागीदारी के माध्यम से हर वर्ग का जीवन बदलने जा रहा है। हम 5 न्याय का संकल्प लेकर किसानों, युवाओं, श्रमिकों, महिलाओं और वंचितों के बीच जाएंगे और सीधे तौर पर लोगों के जीवन से जुड़े वास्तविक मुद्दों पर चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस की गारंटियां देशवासियों के जीवन में खुशहाली लाने का संकल्प हैं।श्
70 सीटों पर चुने गए लोकसभा उम्मीदवार
मतदाताओं को लुभाने के लिए कांग्रेस जहां एक और गारंटियों की बरसात कर रही है। वहीं लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार चुनने की प्रक्रिया भी तेज हो गई है। पार्टी की ओर से आज कांग्रेस इलेक्शन कमेटी की बैठक हुई, जिसमें उम्मीदवारों की तीसरी सूची पर मुहर लगा दी गई। इस बैठक में कर्नाटक, तेलंगाना, मध्य प्रदेश और कुछ अन्य राज्यों की करीब 70 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा की गई। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे की अध्यक्षता में हुई सीईसी की इस बैठक में पार्टी संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और सीईसी के कई अन्य सदस्य शामिल रहे।
अब तक 82 उम्मीदवारों की हुई घोषणा
बताते चलें कि कांग्रेस लोकसभा चुनाव के लिए अब तक 82 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है। उसने पहली सूची में 39 और दूसरी सूची में 43 उम्मीदवार घोषित किए थे। पार्टी उम्मीदवारों की पहली सूची में राहुल गांधी का नाम भी शामिल था जो केरल की वायनाड लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। वह वर्तमान में इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भी करते हैं। कांग्रेस की उम्मीदवारों की पहली सूची में 15 उम्मीदवार सामान्य वर्ग और 24 अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों के थे।
97 करोड़ वोटर चुनेंगे देश का भाग्य
कांग्रेस उम्मीदवारों की दूसरी सूची में 10 उम्मीदवार सामान्य वर्ग से जबकि 33 प्रत्याशी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों से थे। देश में 18वीं लोकसभा के लिए चुनाव 19 अप्रैल से शुरू होंगे। इसके बाद छह और चरणों में 26 अप्रैल, 7 मई, 13 मई, 20 मई, 25 मई और एक जून को मतदान होगा। लोकसभा के 543 निर्वाचन क्षेत्रों में लगभग 97 करोड़ पंजीकृत मतदाता, 10।5 लाख मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे।

 

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments