आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की द्वादशी तिथि रात 08:43 बजे तक तदुपरांत त्रयोदशी तिथि प्रारंभ यानी गुरुवार, 18 जुलाई 2024
ज्ञानवापी मामले से जुड़े सभी 8 मामले अब क्लब होंगे और होगी सामूहिक सुनवाई : जिला अदालत

8 याचिकाओं को साथ जोड़ा और साथ ही होगी सुनवाई

अदालत

ज्ञानवापी मामले से जुड़े सभी 8 मामले अब क्लब होंगे और होगी सामूहिक सुनवाई : जिला अदालत

अदालत//Uttar Pradesh /Varanasi :

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई अब एक साथ की जाएगी। वाराणसी जिला न्यायालय ने मंगलवार को अलग अलग चल रहे सभी मामलों को क्लब करने का आदेश दिया। साथ हे न्यायालय ने यह भी कहा कि सभी आठ मामलों की सामूहिक रूप से सुनवाई की जाएगी। यानि अब एक ही कोर्ट में ज्ञानवापी मामले से जुड़े सभी मामलों की एक साथ सुनवाई होगी।

ज्ञानवापी मस्जिद के पूरे परिसर का भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) से सर्वे कराने, परिसर में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग, मस्जिद परिसर के अंदर स्थित मां श्रृंगार गौरी स्थल पर नियमित पूजा के अधिकार की मांग समेत अन्य याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई होगी।

गौरतलब है कि ज्ञानवापी  के पूरे परिसर का भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) से सर्वे कराने का आग्रह करते हुए वाराणसी की जिला अदालत में दायर याचिका पर मुस्लिम पक्ष ने सोमवार को अपनी आपत्ति दाखिल करायी। जिस पर 7 जुलाई को सुनवाई  होगी। ज्ञानवापी और आदि विश्वेश्वर मामलों के विशेष अधिवक्ता राजेश मिश्रा ने बताया कि अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी को 19 मई को ही वाराणसी के जिला अदालत में पूरे ज्ञानवापी परिसर का भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से सर्वे कराने के आदेश देने के आग्रह वाली याचिका पर अपनी आपत्ति दाखिल करनी थी लेकिन उसी दिन ज्ञानवापी में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग को लेकर उच्‍चतम न्‍यायालय में सुनवाई के चलते आपत्ति दर्ज नहीं हो पाई थी।

 गत 16 मई को वाराणसी की जिला अदालत ने काशी विश्‍वनाथ मंदिर के बगल में स्थित ज्ञानवापी  के पूरे परिसर का भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण (एएसआई) से सर्वेक्षण कराने का आग्रह करने वाली याचिका सुनवाई के लिये मंजूर कर ली थी। विदित हो कि अगस्त 2021 में पांच महिलाओं ने स्थानीय अदालत में एक याचिका दायर की थी जिसमें मस्जिद परिसर के अंदर स्थित मां श्रृंगार गौरी स्थल पर नियमित पूजा के अधिकार की मांग की गई थी।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments