झारखंड के साथ याद आते हैं नोटों के पहाड़, जमशेदपुर में बोले पीएम मोदी आंध्र प्रदेश: नेल्लोर में लॉरी से टकराई RTC बस, हादसे में 2 लोगों की मौत गोवा: BJP नेता बिकम हाथरे को कर्नाटक सीसीबी पुलिस ने किया गिरफ्तार केजरीवाल मौजूदा PM को सीधे चुनौती दे रहे हैं...ये आसान काम नहीं है: सलमान खुर्शीद AAP ने प्रदर्शन के लिए नहीं ली कोई परमिशन, बीजेपी ऑफिस के आसपास लगी रहती है धारा 144: दिल्ली पुलिस BJP मुख्यालय के बाहर 3 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां तैनात, AAP ने किया था प्रदर्शन का ऐलान
Archery World Cup 2023 :  ओजस और ज्योति ने कोरिया को हराकर लगातार दूसरा स्वर्ण जीता

Archery World Cup 2023

ज्योति सुरेखा और ओजस देवताले

स्पोर्ट्स

Archery World Cup 2023 : ओजस और ज्योति ने कोरिया को हराकर लगातार दूसरा स्वर्ण जीता

स्पोर्ट्स/एथलेटिक्स/Delhi/ :

Archery World Cup 2023 : ओजस देवताले और ज्योति सुरेखा वेनम की भारत की मिश्रित टीम जोड़ी ने अपना करिश्माई प्रदर्शन जारी रखते हुए शनिवार को शंघाई में कोरिया की मजबूत टीम को हराकर तीरंदाजी विश्वकप में लगातार अपना दूसरा स्वर्ण पदक जीता। भारत के इस जोड़ी ने अंताल्या में विश्व कप के पहले चरण में भी स्वर्ण पदक जीता था।

उन्होंने दूसरे चरण में भी अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखा और कोरिया की शीर्ष वरीयता प्राप्त जोड़ी को 156-155 से पराजित किया। देवताले और वेनम ने इटली के खिलाफ शानदार शूटऑफ जीत के साथ कंपाउंड मिश्रित टीम वर्ग के फाइनल में जगह बनाई थी। भारतीयों ने पहले बांग्लादेश (158-151) और फिर तुर्की (157-156) को हराकर अंतिम चार में जगह बनाई थी।

भारतीय जोड़ी और किम जोंघो और ओह योह्युन की अनुभवी कोरियाई जोड़ी ने पहले तीन चरण में समान 39 अंक बनाए। चौथे और अंतिम चरण में हालांकि कोरियाई टीम दबाव में आ गई और वह 38 अंक ही बना पाई जबकि भारतीय जोड़ी ने फिर से 39 अंक बनाकर लगातार दूसरा स्वर्ण पदक अपने नाम किया।<

#ArcheryWorldCup #Stage2 - #china????????

Back to back Gold ????Medal for India ???????? Compound Mixed Team Duo V. Jyothi Surekha & Ojas Deotale in World Cups. Defeated Korea ????????by 156-155

Congratulations to #TeamIndia !! #IndianArchery #WorldArchery #Archery#TeamIndia???????? #NTPCArchery pic.twitter.com/x4YNAlFrSc

— ARCHERY ASSOCIATION OF INDIA (@india_archery) May 20, 2023

/p>

 

ज्योति ने स्वर्ण पदक जीतने के बाद कहा, ‘‘पूरे विश्व कप के दौरान हमारा तालमेल और निशाने साधने की प्रक्रिया शानदार रही। फाइनल में भी हमने सही निशाने लगाने पर ही अपना ध्यान केंद्रित किया।’’ विजयवाड़ा की रहने वाली इस तीरंदाज ने कहा, ‘‘विश्व चैंपियनशिप हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण प्रतियोगिता है तथा यहां स्वर्ण पदक जीतकर हमारा मनोबल बढ़ा है। हम अपनी इस लय को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे।’’ ज्योति यहां व्यक्तिगत वर्ग में शुरू में ही बाहर हो गई थी लेकिन इससे पहले उन्होंने अंताल्या में व्यक्तिगत वर्ग का भी स्वर्ण पदक जीता था। इस तरह से 2023 में विश्वकप में अभी तक वह तीन स्वर्ण पदक जीत चुकी है। अब उनकी निगाह बर्लिन में होने वाली विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करने पर टिकी है।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments