टूरिस्ट पर हमलाः कश्मीर में आतंकियों की बौखलाहट की असली कहानी

क्राइम

टूरिस्ट पर हमलाः कश्मीर में आतंकियों की बौखलाहट की असली कहानी

क्राइम //Jammu and Kashmir/Srinagar :

दक्षिण-कश्मीर में पहलगाम के निकट आतंकवादियों ने खुले पर्यटक शिविर पर गोलीबारी की, जिसमें राजस्थान का एक दंपती घायल हो गया। यह घटना शनिवार देर रात जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के पहलगाम पर्यटन रिसॉर्ट के यन्नार में हुई। यह घटना साधारण नहीं, असली कहानी कुछ और है।

बारामूला में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आतंकवादियों ने शनिवार रात कश्मीर में दो स्थानों पर हमले किए थे। इन हमलों में शोपियां में एक पूर्व सरपंच की मौत हो गई थी और अनंतनाग में राजस्थान का एक दंपती घायल हो गया था। माना जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव को बाधित करने और वोटरों में डर पैदा करने के मकसद से ये हमले किए गए। 
हमले में जयपुर के रहने वाले सनी खान (38) और उनके पत्नी फरहा खान बुरी तरह से घायल हो गई। आतंकवादियों ने सनी खान की आंखों में गोली मारी थी। इस हमले में उनकी एक आंख की रोशनी चली गई है और वे आईसीयू में भर्ती हैं। जबकि उनकी पत्नी की भी हालत गंभीर है। अनंतनाग में सेना के अस्पताल में दोनों का इलाज चल रहा है। 
जयपुर के वॉल सिटी इलाके में ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र का रहने वाला ये कपल अपने परिवार के करीब पचास सदस्यों के साथ 10 मई को जम्मू-कश्मीर घूमने के लिए आया था और 20 मई को वापस जाने वाला था। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। शनिवार देर रात जब ये पहलगाम में एक रिसॉर्ट में डिनर करने जा रहे थे। तभी इन पर ये हमला हो गया।
हम कश्मीर आकर बहुत खुश थे
सनी खान के भाई परवेज खान ने बताया कि कंबल में बैठे कुछ लोगों ने एकदम से गोलीबारी शुरू कर दी। मेरे भाई की आंख और भाभी के कंधे में गोली लगी। हम कश्मीर आकर बहुत खुश थे। मेरे भाई की एक आंख निकाल दी गई है। जबकि दूसरी का ऑपरेशन हो रहा है। सनी और फराह के दो बच्चे हैं।
इसी तरह से आतंकवादियों ने रात लगभग साढ़े दस बजे शोपियां के हिरपोरा में पूर्व सरपंच ऐजाज शेख की गोली मारकर हत्या कर दी थी। चुनावी सीजन में ये तीसरा हमला है, जिसमें टूरिस्ट और प्रवासियों को निशाना बनाया गया है। 17 अप्रैल को अनंतनाग में सब्जी बचने वाले बिहार के निवासी पर हमला किया गया था। 7 अप्रैल को दिल्ली के ड्राइवर को निशाना बनाया गया था।
हमलों के बावजूद रिकॉर्ड वोटिंग हुई
आतंकवादियों के हमले के बावजूद श्रीनगर में लोकसभा चुनाव 2024 में रिकॉर्ड 38 पर्सेंट वोटिंग हुई है, जिसके साथ ही 28 साल बाद 1996 का रिकॉर्ड टूटा है। लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में बारामूला सीट पर मतदान हुआ है। उधमपुर और जम्मू सीटों के लिए क्रमशः 19 और 26 अप्रैल को मतदान हो चुका है। वहीं, श्रीनगर में 13 मई को वोटिंग हुई थी, जबकि अनंतनाग-राजौरी सीट पर 25 मई को मतदान होगा। 

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments