पंजाब में कांग्रेस को बड़ा झटका, तेजिंदर सिंह बिट्टू कांग्रेस छोड़ थामेंगे BJP का दामन एलन मस्क का भारत दौरा फिलहाल टला, 21-22 अप्रैल को आने वाले थे टेस्ला के सीईओ ओडिशा नाव हादसे में 4 की डूबकर मौत, रेस्क्यू टीमें 7 लापता लोगों की कर रहीं खोज आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे बैतूल: ट्रक की टक्कर से पलटी सुरक्षाकर्मियों से भरी बस, चुनाव ड्यूटी करके लौट रहे थे जवान केरल में त्रिशूर पूरम उत्सव का जश्न, लोगों ने की आतिशबाजी पाकिस्तान को बड़ा झटका, अमेरिका ने बैलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम के लिए आपूर्ति करने वाली 4 कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध पीएम नरेंद्र मोदी आज कर्नाटक के बेंगलुरु और चिक्काबल्लापुरा में करेंगे जनसभा को संबोधित अमेरिका के ग्रीनबेल्ट स्थित पार्क में गोलीबारी, हाईस्कूल के पांच छात्र घायल आज महाराष्ट्र में नांदेड़ और परभणी में पीएम मोदी की रैली, करेंगे जनसभा को संबोधित कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज 20 अप्रैल को भागलपुर में करेंगे रैली प्रियंका गांधी आज 20 अप्रैल को करेंगी केरल का दौरा IPL 2024: लखनऊ ने घरेलू मैदान में चेन्नई को हराया पहले चरण में रात 9 बजे तक 62.37% वोटिंग, 102 सीटों पर हुआ चुनाव ईरान-इजरायल तनाव: ग्लोबल स्तर पर सोने की कीमतों में 1.5 फीसद का उछाल पश्चिम बंगाल: कूच बिहार के चंदामारी में मतदान केंद्र के सामने पथराव आज है विक्रम संवत् 2081 के चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि रात 10:41 बजे तक यानी शनिवार 20 अप्रेल 2024
दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक केंद्र बनेगी अयोध्या ! 32 हजार करोड़ से विश्व पटल पर छाएगी 

धर्म

दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक केंद्र बनेगी अयोध्या ! 32 हजार करोड़ से विश्व पटल पर छाएगी 

धर्म/कर्मकांड-पूजा/Uttar Pradesh /Lucknow :

पीएम मोदी ने मंगलवार को अयोध्या के विकास को लेकर दिल्ली में बैठक की। बैठक में सीएम योगी, नगर विकास मंत्री अरविंद शर्मा, कमिश्नर गौरव दयाल व डीएम नितीश कुमार मौजूद थे। पीएम की बैठक के बाद बुधवार को अयोध्या में हलचल भी दिखी। 

सप्तपुरियों में श्रेष्ठ भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या आदिकाल से ही दुनिया का मार्गदर्शन करती रही है। अयोध्या अब एक बार फिर विश्व भर के लिए नजीर बनेगी। रामनगरी 32 हजार करोड़ से दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक हब बनने की ओर तेजी से बढ़ रही है। जल्द ही, यहां मंदिरों का एक अनूठा संग्रहालय भी बनने जा रहा है, जिसमें दुनिया भर के प्राचीन मंदिरों की झलक दिखेगी। सरकार का लक्ष्य अयोध्या को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन नगरी के रूप में विकसित करने का है। 
स्वयं पीएम मोदी कर रहे देखरेख
अयोध्या को लेकर सरकार की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि खुद पीएम नरेंद्र मोदी की नजर अयोध्या की विकास योजनाओं पर है। मंगलवार को पीएम ने अयोध्या के विकास को लेकर दिल्ली में बैठक की। बैठक में सीएम योगी, नगर विकास मंत्री अरविंद शर्मा, कमिश्नर गौरव दयाल व डीएम नितीश कुमार मौजूद थे। पीएम की बैठक के बाद बुधवार को अयोध्या में हलचल भी दिखी। कमिश्नर ने सभी विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की और विकास योजनाओं की गति बढ़ाने का निर्देश दिया है। 
हर साल आएंगे 10 करोड़ लोग
राममंदिर निर्माण शुरू होते ही अयोध्या में पर्यटकों व श्रद्धालुओं की संख्या चार गुना बढ़ गई है। पिछले साल अयोध्या में चार करोड़ श्रद्धालु आए। अनुमान है कि मंदिर खुलने के बाद हर साल करीब 10 करोड़ श्रद्धालु आएंगे। 26 बड़े होटलों का निर्माण होने जा रहा है। सरयू में क्रूज चलाने की तैयारी है। 
पालकी शोभायात्रा में विराजेंगे रामलला
प्राण प्रतिष्ठा से पहले रामलला को पंचक्रोशी परिक्रमा कराई जाए, इसको लेकर मंथन हो रहा है। पंचकोसीय परिधि में रामकोट परिक्रमा की तर्ज पर शोभायात्रा निकालने पर भी विचार हो रहा है। प्राण प्रतिष्ठा के बाद अन्य मंदिरों की तरह राम जन्मभूमि से भी रामलला के चल विग्रह की पालकी यात्रा शोभायात्रा निकाली जाएगी। 
प्रतिदिन 60 हजार लोगों के लिए होगी भोजन की व्यवस्था
श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां तेज कर दी हैं। ट्रस्ट का जोर महोत्सव में आने वाले भक्तों की सुविधाओं पर है। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि ट्रस्ट की ओर से रसोई संचालित की जाएगी। इसके लिए 15 स्थानों का चयन किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि प्रवेश मार्ग, बाजार, मठ-मंदिरों के आस-पास सीता रसोई की स्थापना की जा रही है। एक रसोई पर सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक भक्तों को प्रसाद दिया जाएगा। लोगों के इलाज की भी व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए 15 स्थानों पर मेडिकल कैंप लगेंगे जहां डॉक्टरों की टीम रहेगी।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments