आज है विक्रम संवत् 2081 के वैशाख माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 06:47 बजे तक बुधवार 21 मई 2024
भारत रत्न 2024  : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का केंद्र सरकार का एलान

भारत रत्न 2024 : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का केंद्र सरकार का एलान

सम्मान/पुरस्कार

भारत रत्न 2024 : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का केंद्र सरकार का एलान

सम्मान/पुरस्कार//Bihar/Patna :

केंद्र की मोदी सरकार ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर (Karpoori Thakur) को 'भारत रत्न' देने का ऐलान किया है। भारत सरकार ने उन्हें मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित करने की घोषणा की है। राष्ट्रपति भवन की तरफ से बयान जारी कर कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत 'भारत रत्न' से सम्मानित करने की जानकारी दी गई है। 

बिहार के दो बार के मुख्यमंत्री रहे कर्पूरी ठाकुर, जो ओबीसी के लिए आरक्षण लाभ की वकालत करने के लिए जाने जाते हैं, को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, भारत रत्न से सम्मानित करने के लिए चुना गया है ।ठाकुर की विरासत का बिहार में प्रभाव जारी है और उनके पुरस्कार को सामाजिक न्याय और समानता में उनके योगदान की मान्यता के रूप में देखा जाता है।

​प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वo कर्पूरी ठाकुर की 100वीं जयंती पर उन्हें  श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि "सामाजिक न्याय की उनकी निरंतर खोज ने करोड़ों लोगों के जीवन में सकारात्मक प्रभाव डाला" 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न मिलने पर खुशी जताते हुए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लिखा, "मुझे खुशी है कि भारत सरकार ने सामाजिक न्याय के प्रतीक महान जननायक कर्पूरी ठाकुर जी को भारत रत्न से सम्मानित करने का निर्णय लिया है और वह भी ऐसे समय में जब हम उनकी जन्मशती मना रहे हैं. यह प्रतिष्ठित सम्मान हाशिये पर पड़े लोगों के लिए एक चैंपियन और समानता और सशक्तिकरण के समर्थक के रूप में उनके स्थायी प्रयासों का एक प्रमाण है."<

/p>


तेजस्वी यादव की प्रतिक्रिया 

बिहार के उपमुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न से सम्मानित करने के केंद्र के फैसले पर राजद और जदयू के बीच मतभेद का जिक्र किया और कहा कि अब यह महत्वपूर्ण नहीं है कि यह निर्णय लिया गया था या नहीं। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले या नहीं. "महत्वपूर्ण बात यह है कि हमारी मांग पूरी हो गई है... हम लंबे समय से इसकी मांग कर रहे थे। हम वास्तव में खुश हैं कि हमारे पूर्व सीएम को भारत रत्न से सम्मानित किया गया है। इसका प्रभाव राजनीतिक रूप से भी देखा जाएगा।तेजस्वी ने कहा, ''हमारे द्वारा जाति जनगणना कराने के बाद भारत की सरकार को यह निर्णय लेने के लिए मजबूर होना पड़ा।''

नीतीश कुमार की प्रतिक्रिया 

100वीं जयंती पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारत रत्न जननायक कर्पूरी ठाकुर जी की अपनी श्रद्धांजलि दी। अपने संबोधन के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने परिवारवाद पर निशाना साधा। इस बयान के बाद सियासी गलियारे में हड़कंप मच गया। राजनीति पंडितों का कहना है कि सीएम नीतीश कुमार ने इस बयान के जरिए बिना नाम लिए लालू प्रसाद और कांग्रेस पर निशाना साधा है। 

बिहार के पूर्व सीएम कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत भारत रत्न मिलने के ऐलान के बाद से बिहार समेत पूरे देश में ख़ुशी का माहौल है। 'जननायक' के नाम से मशहूर ठाकुर दिसंबर 1970 से जून 1971 और दिसंबर 1977 से अप्रैल 1979 तक मुख्यमंत्री रहे। ठाकुर राज्य में दलितों और पिछड़ों के हितों में कदम उठाने वाले बड़े नेता माने जाते हैं और राज्य की राजनीति में आज भी उनके समर्थक सभी राजनीतिक दलों में महत्वपूर्ण भूमिका में हैं।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments