ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
रूसी राष्ट्रपति पुतिन के चिर प्रतिद्वंद्वी एलेक्सी नवलनी का शव मिला; सिर और छाती पर पाए गए चोट के निशान

रूसी राष्ट्रपति पुतिन के चिर प्रतिद्वंद्वी एलेक्सी नवलनी के शव पर पाए गए चोट के निशान

राजनीति

रूसी राष्ट्रपति पुतिन के चिर प्रतिद्वंद्वी एलेक्सी नवलनी का शव मिला; सिर और छाती पर पाए गए चोट के निशान

राजनीति//Rajasthan/Jaipur :

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के कट्टर प्रतिद्वंद्वी एलेक्सी नवलनी का रहस्यमय परिस्थितियों  निधन हो गया है। 47 वर्षीय नवलनी की अचानक मौत कई रूसियों के लिए करारा झटका है।  सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि उसके शरीर पर चोट के निशान पाए गए। एक रूसी अखबार ने एक गुमनाम मेडिकल स्टाफ के हवाले से यह जानकारी दी। नवलनी की मौत के बाद से 32 रूसी शहरों में कार्यक्रमों में 400 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है।

मेडिकल स्टाफ ने कहा कि प्रोटोकॉल के अनुसार, शव सीधे ब्यूरो ऑफ फॉरेन मेडिसिन को भेजा जाता है। हालांकि, एलेक्सी नवलनी के मामले में, उनके शरीर को एक नैदानिक अस्पताल भेजा गया था। कर्मचारी ने दावा किया कि जब उसका शव अस्पताल पहुंचा, तो शव के सीने और सिर पर चोट के निशान थे।

किसी को शव के पास जाने की अनुमति नहीं 
शव को नवलनी  लाने के बाद उन्हें सीधे मोर्चरी ले जाया गया। इसके बाद दो पुलिसकर्मियों को मोर्चरी के बाहर तैनात किया गया। कर्मचारी ने कहा, "कुछ छिपाने की कोशिश की गई थी। लगातार तीसरे दिन नवलनी के परिवार को शव नहीं दिया गया। उनकी मां को भी उस स्थान पर प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है जहां नवलगी का शव रखा गया है।

400 से अधिक लोगों को हिरासत में
एलेक्सी नवलनी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे 400 से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया गया। सितंबर 2022 के बाद से यह रूस में राजनीतिक कार्यक्रमों में गिरफ्तारियों की सबसे बड़ी संख्या है, जब यूक्रेन में पुतिन के सैन्य अभियान के खिलाफ प्रदर्शनों में 1,300 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

हत्या की आशंका 
नवलनी की टीम ने कहा कि राजनेता की हत्या की गई थी और उन्होंने अधिकारियों पर जानबूझकर शव न सौंपने का आरोप लगाया है। नवलनी की मां और वकीलों को विभिन्न संस्थानों से विरोधाभासी जानकारी मिली, जहां वे शव को पुन: प्राप्त करने की तलाश में गए थे। वहीं, पत्नी यूलिया ने रविवार को सोशल मीडिया पर नवलीन के साथ वाली तस्वीर पोस्ट की है। इसमें उन्होंने लिखा है कि मैं तुमसे प्यार करती हूं।

गौरतलब है कि मास्को से 1,900 किमी उत्तर-पूर्व में पोलर वुल्फ पीनल कालोनी में 47 वर्षीय नवलनी शुक्रवार को टहलने के दौरान दोपहर में बेहोश हो गए थे और उनकी मौत हो गई। इसे सबसे खतरनाक जेल में से एक माना जाता है। वह यहां सजा काट रहे थे। वहां के एक कर्मचारी ने नवलीन का पास के शहर सालेकहार्ड ले जाने की जानकारी दी थी। लेकिन वहां कोई शव मौजूद नहीं था। परिवार ने शव सौंपने की मांग की है। नवलनी के वकील ने कहा कि उन्होंने बुधवार को नवलनी से मुलाकात की। उस समय सब कुछ ठीक था

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments