पीएम मुद्रा लोन की सीमा दोगुनी कर 20 लाख की घोषणा कैंसर की 3 दवाओं पर नहीं लगेगी कस्टम ड्यूटी, निर्मला सीतारमण का ऐलान देश में उच्च शिक्षा के लिए 10 लाख रुपये लोन की घोषणा 'दुकानदारों को अपनी पहचान बताने की जरूरत नहीं'- कांवड़ यात्रा नेमप्लेट विवाद पर सुप्रीम कोर्ट
निर्मम, वीभत्स..! प. बंगाल में सरेआम महिला की पिटाई पर बोला टीएमसी विधायक, ' हमारे 'मुस्लिम राष्ट्र’ में महिलाओं का ऐसा ही न्याय होता है..  '

क्राइम

निर्मम, वीभत्स..! प. बंगाल में सरेआम महिला की पिटाई पर बोला टीएमसी विधायक, ' हमारे 'मुस्लिम राष्ट्र’ में महिलाओं का ऐसा ही न्याय होता है.. '

क्राइम //West Bengal/Kolkata :

पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजापुर जिले के चोपरा विधानसभा क्षेत्र से दिल दहला देने वाली एक शर्मनाक घटना सामने आई है। यहॉं भरे चौराहे एक महिला को पटक-पटक कर बांस की छड़ी से पीटा गया और भीड़ मूक दर्शक बनी तमाशा देखती रही। यह पिटाई की वहां के विधायक हमीदुर्रहमान के दाहिने हाथ कहे जाने वाली सहयोगी ताजेमुल ने की, जिसे “त्वरित न्याय” के लिए जेसीबी के नाम से जाना जाता है। इस निर्मम पिटाई की घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। पूरे घटनाक्रम पर तृणमूल कांग्रेस पार्टी के चोपरा विधायक हमीदुर्रहमान का विवादित बयान भी आया है, “मुस्लिम राष्ट्र के हिसाब से कुछ संहिता और न्याय होते हैं।  हमारे मुस्लिम राष्ट्र’ में महिलाओं का ऐसा ही न्याय होता है।” इस घटना और बयान के बाद से सबके मन में एक ही प्रश्न उठ रहा है, “क्या बंगाल में शरिया कानून लागू हो गया है?”

विधायक ने कहा, “महिला की हरकतें असामाजिक थीं। उसने गलत किया। उसने अपने पति, बेटे और बेटी को छोड़ दिया और ‘दुष्ट जानवर’ बन गई।”   विधायक कहा कि हमारे मुस्लिम राष्ट्र के कुछ नियम हैं। महिला के साथ इन नियमों के मुताबिक बर्ताव किया गया है। उसने कहा कि वह अवैध संबंध में थी, उसका कैरेक्टर सही नहीं था और वह समाज को खराब कर रही थी। वहीं पुलिस ने महिला के साथ मारपीट करने वाले ताजेमुल हक उर्फ JCB को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ स्वत: संज्ञान लेते हुए केस दर्ज किया गया है। आरोपी को पुलिस सुरक्षा में रखा गया है और मामले की जांच की जा रही है। उसे आज ही कोर्ट में भी पेश किया गया।

 उल्लेखनीय है कि 30 जून को चोपरा इलाके का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ जिसमें ताजेमुल  एक महिला और एक पुरुष को सड़क पर छड़ी से पीटते हुए नजर आ रहा था। बताया गया कि महिला और पुरुष के बीच कथित तौर पर अवैध संबंध है। इसलिए ताजेमुल इस मामले में ‘त्वरित न्याय’ कर रहा था, जिसके लिए वह जाना जाता है। वीडियो में दिखा कि ताजेमुल महिला को कई बार मारता है। वह दर्द से चिल्लाती है, लेकिन वह मारना नहीं छोड़ता। इसके बाद वह महिला के पास बैठे पुरुष की ओर मुड़ता है और उसे मारना शुरू कर देता है। इस दौरान भीड़ तमाशा देखती रहती है। कोई भी महिला और पुरुष को बचाने आगे नहीं आता। वीडियो में एक जगह वह महिला के बाल पकड़कर उसे लात भी मारता है। यह भी उल्लेखनीय है कि कल रविवार 30 जून को भारत के प्रधान न्यायाधीश बंगाल के दौरे पर थे। उनके रहते हुए टीएमसी के गुंडों ने एक महिला – पुरुष को, बीच चौराहे पर, सरेआम पीट कर, अपना दुस्साहस दिखाया।

बताया जा रहा है महिला चोपरा के लक्ष्मीकांतपुर गॉंव की रहने वाली है, जहॉं यह घटना हुई। महिला पहले से शादीशुदा थी। बाद में उसका किसी युवक से अफेयर हो गया। इसी घटना के आधार पर सालिशी सभा यानि कंगारू कोर्ट (अवैध कोर्ट) बुलाई गई। इस कोर्ट में ताजेमुल ने महिला को शरिया अनुसार सजा सुना दी, जिसके अंतर्गत उस महिला की बर्बरतापूर्ण पिटाई कर दी गई।

उल्लेखनीय है, जनवरी 2014 में भी सालिशी सभा ने एक युवती को ऐसी ही क्रूर सजा दी थी। वह मामला बीरभूम के सुबोलपुर गॉंव का था। गॉंव की एक 20 वर्षीय लड़की का दूसरी कम्यूनिटी के किसी युवक के साथ अफेयर था। 20 जनवरी को सालिशी सभा बुलाई गई। सभा में युवक-युवती को पकड़ लिया गया और पेड़ से बांध कर उनकी पिटाई की गई। इसके बाद, सालिशी सभा (कंगारू कोर्ट) ने उन्हें 25-25 हजार रुपये का जुर्माना भरने का आदेश दिया। युवक ने जुर्माना भर दिया, लेकिन माली हालत ठीक न होने के चलते लड़की जुर्माना भरने में असमर्थ थी। इस पर सालिशी सभा ने युवती के साथ रातभर सामूहिक बलात्कार किए जाने का आदेश दे दिया। मामले में 13 आरोपियों को 20 वर्ष के कारावास की सजा हुई थी।

 

 

 

 

 

You can share this post!

author

News Thikana

By News Thikhana

News Thikana is the best Hindi News Channel of India. It covers National & International news related to politics, sports, technology bollywood & entertainment.

Comments

Leave Comments