ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
हिंद महासागर में डूबा चीनी जहाज: भारत ने दिखाया बड़ा दिल, भेजा टोही विमान

सेना

हिंद महासागर में डूबा चीनी जहाज: भारत ने दिखाया बड़ा दिल, भेजा टोही विमान

सेना/नौसेना/Delhi/New Delhi :

चीनी जहाज हिंद महासागर में भारत से करीब 1600 किलोमीटर दूर डूबा है। उसकी तलाश में भारतीय नौसेना ने पी-8आई टोही विमान लगाया।

दुश्मन भी मुसीबत में हो तो उसकी मदद करना इंसानियत है। भारत ने बड़ा दिल दिखाया है। सीमा पर चीन की गुस्ताखियों को एक ओर रखकर भारत ने मदद की। चीनी मछुआरों की एक नौका दक्षिणी हिंद महासागर क्षेत्र में पलट गई थी। उसपर सवार 39 क्रू मेंबर्स की तलाश के लिए भारतीय नौसेना ने अपना टोही विमान पी-8आई भेज दिया। बुधवार से नेवी के एयरक्राफ्ट ने सर्च एंड रेस्क्यू शुरू किया। इस विमान में रडार और इलेक्ट्रो-ऑप्टिक सेंसर्स लगे हैं। चीनी नाव भारत से करीब 900 नॉटिकल मील (1,667 किलोमीटर) दूर डूबी है। गुरुवार को भी पी-8आई विमान ने खराब मौसम के बावजूद स्पॉट के कई चक्कर लगाए। डूबे जहाज का कुछ सामान लोकेट किया गया है।


समुद्री लुटेरों से घिरा है इलाका
चीनी नौसेना के युद्धपोत अभी घटनास्थल पर पहुंच ही रहे हैं। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी-नेवी ने भारत से रिक्वेस्ट की। इसके बाद पी-8आई विमान से लाइफ राफ्ट्स गिराए गउए। पीएलएएन के जहाज अदन की खाड़ी पहुंच रहे हैं। इस इलाके में समुद्री लुटेरों का भी आतंक है। अभी तक के सर्च में दो शव बरामद किए गए हैं। नाव पर सवार 39 लोगों में से 17 चीन से थे, 17 इंडोनेशिया के और पांच फिलीपींस के।

चीन ने अदा किया भारत का शुक्रिया
इंडियन नेवी ने एक बयान में कहा कि ‘समुद्र में सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक विश्वसनीय और जिम्मेदार भागीदार के रूप में भारत ने दायित्वों का प्रदर्शन’ किया। चीन ने बाद में भारत, श्रीलंका, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, मालदीव और फिलीपींस को मदद के लिए शुक्रिया कहा। भारत ने एक और मानवतावादी ऑपरेशन में चक्रवात ‘मोका’ से प्रभावित म्यांमार की मदद के लिए राहत सामग्री के साथ चार युद्धपोत भेजे हैं।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments