ध्य प्रदेश के चर्चित जस्टिस रोहित आर्य ने भाजपा का दामन थामा प्रशिक्षु आईएएस पूजा खेडकर के विरुद्ध सख्ती, ट्रेनिंग रद्द कर वापस भेजा गया मसूरी अकादमी..! बदले में पूजा ने पुणे डीएम पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप हरभजन, युवराज सिंह और रैना मुश्किल में, पैरा एथलीट्स का उड़ाया था मजाक..FIR दर्ज आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की दशमी तिथि रात 08:33 बजे तक तदुपरांत एकादशी तिथि प्रारंभ यानी मंगलवार, 16 जुलाई 2024
मोदी से मिले सीएम भजनलाल...राजस्थान में हार पर सौंपी रिपोर्ट!

राजनीति

मोदी से मिले सीएम भजनलाल...राजस्थान में हार पर सौंपी रिपोर्ट!

राजनीति//Delhi/New Delhi :

राजस्थान लोकसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। बताया जाता है कि दौरान उन्होंने पीएम को चुनाव पर रिपोर्ट सौंपी है।

राजस्थान लोकसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। जानकारी के मुताबिक इस मुलाकात में सीएम शर्मा ने प्रदेश की सभी 25 सीटों पर भाजपा के प्रदर्शन को लेकर चर्चा की। साथ ही, राजस्थान बजट को लेकर भी चर्चा संभव बताई जा रही है।
हार के कारणों पर चर्चा संभव
राजस्थान में लोकसभा चुनाव के परिणाम को लेकर दो दिन बैक टू बैक प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर मंथन बैठक हुई। इस बैठक में प्रदेश की 11 लोकसभा सीट पर हार के कारणों को लेकर रिपोर्ट तैयार की गई। सूत्रों के मुताबिक इस रिपोर्ट कार्ड को सीएम भजनलाल शर्मा ने पीएम मोदी को सौंपा होगा।
आपसी कलह और गुटबाजी बनी हैट्रिक में रोड़ा
भाजपा की लोकसभा चुनाव की मंथन बैठक में कई नेताओं ने दर्द बयां किया। प्रत्याशियों का कहना था कि इन नेताओं ने अंदरखाने साथ रहने का नाटक किया, लेकिन उनके समर्थकों ने पार्टी को हरवाने में दिन-रात एक कर दिया। बैठक में सामने आया कि कांग्रेस ने जिस तरह एससी-एसटी आरक्षण खत्म होने का प्रचार किया। उसका समय पर जवाब नहीं दे सके। इससे एससी-एसटी वोट का काफी नुकसान हुआ। इसके अलावा ओवर कॉन्फिडेंस भी हार का बड़ा कारण रहा। इसी प्रकार संगठन के जिन नेताओं के पास बड़े पद थे, वे भी वोट नहीं दिला सके।
खराब टिकट वितरण भी बना वजह
इसके अलावा कुछ नेताओं ने हार के बड़े कारणों में खराब टिकट वितरण और बड़े नेताओ का अपनी ही सीटों पर व्यस्त रहना भी बताया है। चूरू सीट पर हार के कारणों में एक बड़ा कारण चुनाव का जातीय आधार पर लड़ा जाना भी माना गया।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments