भारत-चीन तवांग झड़प पर रक्षा मंत्री ने दिया जवाब , बोले झड़प में हाथापाई भी हुई, हमारे जवानो ने खदेड़ा चीनी सैनिको को

सेना

भारत-चीन तवांग झड़प पर रक्षा मंत्री ने दिया जवाब , बोले झड़प में हाथापाई भी हुई, हमारे जवानो ने खदेड़ा चीनी सैनिको को

सेना//Arunachal Pradesh/Itanagar :

भारत और चीन के सैनिकों के बीच अरुणाचल प्रदेश में तवांग के करीब हुई झड़प को लेकर संसद के दोनों सदनों में बवाल जारी है। इस बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज लोकसभा में बयान दिया।

उन्होंने कहा कि 9 दिसंबर 2022 को पीएलए गुट ने तवांग सेक्टर के यांग्त्से क्षेत्र में वास्तविक सीमा रेखा ( LAC ) पर अतिक्रमण कर यथास्थिति को एकतरफा बदलने का प्रयास किया। लेकिन हमारी सेना ने उनका दृढ़ता के साथ सामना किया।

सेना के शौर्य और पराक्रम का अभिनंदन-रक्षा मंत्री
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सेना ने बहादुरी के साथ पीएलए को हमारे क्षेत्र में अतिक्रमण करने से रोका और उन्हें उनकी पोस्ट पर वापस जाने के लिए मजबूर कर दिया। इस दौरान हुई झड़प में दोनों ओर के सैनिकों को कुछ चोटें आईं। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में हमारे किसी भी सैनिक की मृत्यु नहीं हुई ना ही कोई गंभीर रूप से घायल हुआ। राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि चीन ने सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की थी। लेकिन हमारी भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों को पीछे खदेड़ दिया और चीन के सैनिकों को मजबूरन वापस लौटना पड़ा। उन्होंने ये भी कहा कि दोनों देशों के बीच फ्लैग मीटिंग भी हुई। रक्षा मंत्री ने कहा कि हम सेना के शौर्य और पराक्रम का अभिनंदन करते हैं।

कांग्रेस कर रहे दोहरा व्यवहार- अमित शाह
बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान से पहले गृहमंत्री अमित शाह ने भी इस मामले पर बयान दिया। उन्होंने संसद के बाहर कहा कि चीन ने भारत की एक इंच जमीन पर भी कब्जा नहीं किया। उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों ने बहादुरी दिखाई और चीनी सैनिकों को वहां से खदेड़ दिया। वहीं अमित शाह ने दोनों सदनों में जारी विपक्ष के हंगामे पर कहा कि कांग्रेस दोहरा व्यवहार कर रही है। कांग्रेस ने प्रश्न काल नहीं चलने दिया। हमने जवाब देने की बात कह दी थी। उसके बावजूद इन्होंने संसद नहीं चलने दी।

पूर्वी कमांड के सभी एयरफोर्स बेस हैं अलर्ट मोड पर
वहीं इस झड़प के बाद पूर्वी कमांड के सभी एयरफोर्स बेस को अलर्ट कर दिया गया है। सिलीगुड़ी में S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को भी अलर्ट पर रखा गया है। साथ ही L70 एयर डिफेंस गन अग्रिम मोर्चे पर तैनात किया गया है। इसके साथ ही तेजपुर में SU-30 फाइटर प्लेन को भी स्टैंडबाई पर रखा गया है और हाशीमारा राफेल फाइटर बेस को भी स्टैंडबाई पर रखा गया है।

 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments