ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
दिनेश कुमार त्रिपाठी ने 26वें भारतीय नौसेना प्रमुख का पदभार संभालते ही दिया हिंदी में उद्बोधन और छुए अपनी मां के पैर..!

सेना

दिनेश कुमार त्रिपाठी ने 26वें भारतीय नौसेना प्रमुख का पदभार संभालते ही दिया हिंदी में उद्बोधन और छुए अपनी मां के पैर..!

सेना//Delhi/New Delhi :

 देश की नौसेना के प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार आज मंगलवार, 30 अप्रेल को सेवानिवृत्त हो गये और उनके स्थान पर  दिनेश कुमार त्रिपाठी ने 26वें नौसेना प्रमुख का पदभार संभाल लिया। एडमिरल दिनेश कुमार त्रिपाठी ने इससे पहले नौसेना संचालन के महानिदेशक और पश्चिमी नौसेना के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के तौर पर कार्य कर चुके हैं।  बता दें कि 19 अप्रैल को सरकार द्वारा एडमिरल दिनेश कुमार त्रिपाठी को नौसेना प्रमुख बनाए जाने की घोषणा की गई थी। 

एडमिरल डीके त्रिपाठी ने भारतीय नौसेना के प्रमुख का पदभार ग्रहण करने के बाद हिंदी में उद्बोधन दिया और इसके बाद पद ग्रहण समारोह में मौजूद अपनी मां के पैर छूकर आशीर्वाद लिया। हालांकि किसी भी व्यक्ति के लिए ऐसा करना बहुत ही साधारण बात हो सकती है लेकिन वर्तमान परिप्रेक्ष्य जहां पाश्चात्य संस्कृति के प्रभाव में लोग अपनी भारतीय पंरपरा को निभाने में झिझक महसूस करते हैं, उनका भारतीय परंपरा को निभाना उन्हें  विशिष्ट भी बनाता है।

नौसेना प्रमुख बनने पर दिनेश कुमार त्रिपाठी ने कहा, "नमस्कार सुप्रभात भारतीय नौसेना का छब्बीसवां नौसेना अध्यक्ष बनने पर मुझे अत्यंत गर्व और सम्मान की अनुभूति हो रही है। मुझसे पहले पच्चीस नौसेना अध्यक्षों ने अपनी कर्मठता और समर्पण से हमारी नौसेना को युद्ध तत्पर, विश्वसनीय, सुगठित और भविष्य की ताकत बनाई है। मेरा प्रयास रहेगा कि मैं भारतीय नौसेना को अधिक आत्मनिर्भर और मजबूत बनाऊं। मेरी पूरी कोशिश रहेगी भारतीय नौसेना, हमारे देश के समुद्री हित और समुद्री रक्षा दोनों पर हरदम खरी उतरे - कभी भी, कहीं भी, कैसे भी, मैं आप लोगो के द्वारा सभी भारतीयों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि आपकी नौसेना हरदम "राष्ट्र प्रथम" के मंत्र का पालन करते हुए आपके साथ खड़ी है।" पदग्रहण समारोह के दौरान एडमिरल दिनेश कुमार त्रिपाठी के सहयोगियों के अलावा उनके परिवार के सदस्य, कई मित्र और उनके सहपाठी जन उपस्थित रहे।

उल्लेखनीय है कि  5 मई, 1964 को जन्मे वाइस एडमिरल दिनेश कुमार त्रिपाठी को 1 जुलाई, 1985 को भारतीय नौसेना की कार्यकारी शाखा में नियुक्त किया गया था। उनकी पहचान कम्युनिकेशन और इलेक्ट्रॉनिक वार स्पेशलिस्ट की रही है। उन्होंने करीब 39 सालों की लंबी और विशिष्ट सेवाएं दी हैं।

You can share this post!

author

News Thikana

By News Thikhana

News Thikana is the best Hindi News Channel of India. It covers National & International news related to politics, sports, technology bollywood & entertainment.

Comments

Leave Comments