श्रीलंका टूर: T20 और वनडे दोनों में शुभमन गिल उप-कप्तान होंगे
गाजा में अस्पतालों के बाहर चल रही जंग, नेतन्याहू ने कहा- दुनिया को हमास की करनी चाहिए निंदा

सेना

गाजा में अस्पतालों के बाहर चल रही जंग, नेतन्याहू ने कहा- दुनिया को हमास की करनी चाहिए निंदा

सेना///Tel Aviv :

इजरायल-हमास युद्ध ने मिडिल ईस्ट को अव्यवस्थित करके रख दिया है। इस युद्ध की वजह से अब तक हजारों मासूमों की जान जा चुकी है।

मिडिल ईस्ट में जारी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है। इजरायल और हमास के बीच जंग को आज (12 नवंबर) को 36वां दिन है। एक महीने से ज्यादा वक्त से चल रहे इस युद्ध की वजह से हजारों जानें जा चुकी हैं। गाजा पट्टी पर इजरायल की बमबारी थमने का नाम नहीं ले रही है। शुक्रवार (10 नवंबर) को गाजा पट्टी के उत्तरी हिस्से में कई जगह धमाके रिकॉर्ड किए गए। धमाकों की गूंज कई सारे अस्पतालों के बाहर भी सुनी गई है। 
वहीं, हजारों की संख्या में गाजा के लोगों ने दक्षिण की ओर बढ़ना जारी रखा है। इजरायल ने कहा है कि वह हर रोज उत्तरी गाजा में अपनी जमीनी कार्रवाई पर चार घंटे की रोक लगाएगा, ताकि यहां फंसे हुए लोगों को बाहर जाने का मौका मिल सके। इस युद्ध की वजह से दुनियाभर में इजरायल के खिलाफ प्रदर्शन होने शुरू हो गए हैं। युद्ध रोकने के लिए उस पर लगातार दबाव भी बनाया जा रहा है। 
7 अक्टूबर को हुई थी 1200 की मौत
इजरायल ने 7 अक्टूबर को हुए हमले में मारे गए लोगों की संख्या में बदलाव किया है। पहले कहा जा रहा था कि 1400 लोगों की मौत हुई है, लेकिन अब इसे बदलकर 1200 कर दिया गया है। वहीं, गाजा में हो रही बमबारी में अब तक 11,000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है, जिसमें 4500 से ज्यादा बच्चे शामिल हैं। 
हेल्थ फैसिलिटी के बाहर इजरायली टैंक
गाजा के अल-शिफा, अल-कुद्स, अल-रान्तिसी और इंडोनेशियन अस्पतालों जैसी प्रमुख हेल्थ फैसिलिटी के बाहर इजरायली टैंकों को देखा गया। अस्पतालों के पास और उनके भीतर धमाकों की आवाज को भी सुना गया है। इजरायल का कहना है कि अस्पतालों के नीचे हमास की सुरंगें हैं, लेकिन हमास ने इससे इनकार किया है।
पहली बार अमेरिका ने भी उठाए सवाल
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने गाजा में हो रही इजरायली बमबारी की वजह से मारे जा रहे फिलिस्तीनियों पर इजरायल को घेरा है। उन्होंने कहा है कि अब तक बहुत ज्यादा फिलिस्तीनियों की मौत हुई है। ये पहला मौका है, जब इजरायल को अमेरिका की तरफ से इस तरह से सवालों के घेरे में रखा गया है। 
गाजा में 45 फीसदी घर तबाह 
संयुक्त राष्ट्र की एक एजेंसी ने बताया है कि गाजा में 45 फीसदी घर तबाह हो चुके हैं। दो लाख लोग ऐसे हैं, जिनके पास अब रहने के लिए छत नहीं है। सबसे ज्यादा नुकसान उत्तरी गाजा को पहुंचा है, जहां पट्टी के सबसे बड़े शहर मौजूद थे। इजरायल की तरफ से लगातार गाजा पर बम गिराए जा रहे हैं। 
फ्रांस के राष्ट्रपति ने की अपील
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने इजरायल से कहा कि वह गाजा में महिलाओं और बच्चों की हो रही हत्या पर रोक लगाए। उन्होंने सीजफायर की भी बात दोहराई। इस पर इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि दुनिया के देशों को इजरायल के बजाय हमास की निंदा करनी चाहिए।
संयुक्त राष्ट्र में गाजा के हालात पर चर्चा
संयुक्त राष्ट्र में गाजा के हालातों पर चर्चा की गई। इस बैठक की शुरुआत युद्ध में मारे गए फिलिस्तीनियों, इजरायलियों और विदेशों नागरिकों को लेकर एक मिनट की शांति के साथ हुई। इस दौरान फिलिस्तीन और इजरायल के राजनयिकों के बीच काफी तीखी बहस भी देखने को मिली। 
गाजा के लिए राहत सामग्री ले जाएंगे छह विमान
यूरोपियन यूनियन ने कहा है कि वह गाजा के लिए राहत सामग्री लेकर छह विमानों को भेज रहा है। इटली से दो विमान 55 टन राहत साम्रगी लेकर उड़ेगें, जबकि तीन विमान रोमानिया से उड़ान भरने वाले हैं, जिसमें टेंट्स और गद्दे होंगे। छठी फ्लाइट बेल्जियम से उड़ान भरने वाली है। 
लेबनान की सीमा पर टकराव 
इजरायल और हिजबुल्लाह के बीच लेबनान की सीमा पर टकराव की घटनाएं सामने आ रही हैं। लेबनान के दो सीमा से सटे कस्बों पर इजरायली गोले आकर गिरे हैं। इजरायल लगातार लेबनान की ओर ड्रोन भी उड़ा रहा है। हिजबुल्लाह की तरफ से भी रुक-रुक कर फायरिंग की जा रही है।
मोहम्मद बिन सलमान ने की युद्ध खत्म करने की मांग
सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने गाजा में युद्ध को खत्म करने की मांग की है। उन्होंने फिलिस्तीनियों के हो रहे विस्थापन को भी रोकने को कहा है। रियाद में एक समिट के दौरान उन्होंने कहा, ‘हम इस युद्ध को रोकने और फिलिस्तीनियों के विस्थापन के रोकने की मांग करते हैं।’
वेस्ट बैंक में इजरायली सेना की रेड
अल जजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक, वेस्ट बैंक में इजरायली सेना रेड कर रही है। यरुशलम के उत्तर-पश्चिम में स्थित बिद्दू कस्बे में इजरायली सैनिक कार्रवाई कर रहे हैं। निलिन कस्बे में भी छापेमारी चल रही है। युद्ध के शुरू होने के बाद से ही लगातार वेस्ट बैंक में हमास समर्थकों को पकड़ा जा रहा है।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments