पंजाब में कांग्रेस को बड़ा झटका, तेजिंदर सिंह बिट्टू कांग्रेस छोड़ थामेंगे BJP का दामन एलन मस्क का भारत दौरा फिलहाल टला, 21-22 अप्रैल को आने वाले थे टेस्ला के सीईओ ओडिशा नाव हादसे में 4 की डूबकर मौत, रेस्क्यू टीमें 7 लापता लोगों की कर रहीं खोज आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे बैतूल: ट्रक की टक्कर से पलटी सुरक्षाकर्मियों से भरी बस, चुनाव ड्यूटी करके लौट रहे थे जवान केरल में त्रिशूर पूरम उत्सव का जश्न, लोगों ने की आतिशबाजी पाकिस्तान को बड़ा झटका, अमेरिका ने बैलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम के लिए आपूर्ति करने वाली 4 कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध पीएम नरेंद्र मोदी आज कर्नाटक के बेंगलुरु और चिक्काबल्लापुरा में करेंगे जनसभा को संबोधित अमेरिका के ग्रीनबेल्ट स्थित पार्क में गोलीबारी, हाईस्कूल के पांच छात्र घायल आज महाराष्ट्र में नांदेड़ और परभणी में पीएम मोदी की रैली, करेंगे जनसभा को संबोधित कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज 20 अप्रैल को भागलपुर में करेंगे रैली प्रियंका गांधी आज 20 अप्रैल को करेंगी केरल का दौरा IPL 2024: लखनऊ ने घरेलू मैदान में चेन्नई को हराया पहले चरण में रात 9 बजे तक 62.37% वोटिंग, 102 सीटों पर हुआ चुनाव ईरान-इजरायल तनाव: ग्लोबल स्तर पर सोने की कीमतों में 1.5 फीसद का उछाल पश्चिम बंगाल: कूच बिहार के चंदामारी में मतदान केंद्र के सामने पथराव आज है विक्रम संवत् 2081 के चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि रात 10:41 बजे तक यानी शनिवार 20 अप्रेल 2024
पूर्व डाकू मलखान सिंह को मिली कांग्रेस की सरपरस्ती ,भाजपा,सपा और अब कांग्रेस में दलबदल

पूर्व डकैत मलखान सिंह: भाजपा,सपा और अब कांग्रेस में दलबदल

राजनीति

पूर्व डाकू मलखान सिंह को मिली कांग्रेस की सरपरस्ती ,भाजपा,सपा और अब कांग्रेस में दलबदल

राजनीति//Madhya Pradesh/Bhopal :

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले दल-बदल का दौर जारी है। इसी क्रम में पूर्व डकैत मलखान सिंह ने कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय में आयोजित समारोह में पूर्व डकैत मलखान सिंह के अलावा कई अन्य लोगों ने भी कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।

भाजपा से टिकट न मिलने से छोड़ी थी पार्टी 

मलखान सिंह ने वर्ष 2014 में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी और 2019 में विधानसभा चुनाव में टिकट मांगा था। मगर जब उन्हें टिकट नहीं मिला तो उन्होंने भाजपा से त्यागपत्र दे दिया था। उसके बाद वह प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) में शामिल हो गए थे। अब मलखान सिंह ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है। दावा किया जा रहा है कि वह राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रचार करेंगे।

चम्बल के इनामी डाकू रह चुके हैं मलखान सिंह 

वर्तमान में मलखान सिंह की पत्नी गुना जिले की आरोन क्षेत्र की सिनगयाई पंचायत से सरपंच हैं, वह निर्विरोध चुनाव जीती थीं। किसी दौर में मलखान सिंह की गिनती चंबल के खूंखार डकैत में हुआ करती थी, उन पर जहां एक लाख से अधिक का इनाम था और सौ से अधिक मामले दर्ज थे, जिनमें अपहरण, हत्या, डकैती आदि के मामले शामिल थे। उन्होंने 1982 में आत्मसमर्पण कर दिया था और लगभग छह साल उन्होंने जेल में गुजारे। उन्हें वर्ष 1989 में सभी मामलों से बरी कर दिया गया था। फिर, वह जेल से छूटे और उसके बाद राजनीति में सक्रिय हैं। वह राजनीतिक दलों और नेताओं पर बेबाक बयानी करने से कभी नहीं हिचकते।

 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments