पीएम मुद्रा लोन की सीमा दोगुनी कर 20 लाख की घोषणा कैंसर की 3 दवाओं पर नहीं लगेगी कस्टम ड्यूटी, निर्मला सीतारमण का ऐलान देश में उच्च शिक्षा के लिए 10 लाख रुपये लोन की घोषणा 'दुकानदारों को अपनी पहचान बताने की जरूरत नहीं'- कांवड़ यात्रा नेमप्लेट विवाद पर सुप्रीम कोर्ट
राजस्थान में चलेगी चौथी वंदे भारत: जयपुर से चंडीगढ़ के बीच होगा ये रूट

रेलवे

राजस्थान में चलेगी चौथी वंदे भारत: जयपुर से चंडीगढ़ के बीच होगा ये रूट

रेलवे//Rajasthan/Jaipur :

राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2023 से पहले केंद्र सरकार चौथी वंदे भारत ट्रेन की सौगात देने जा रही है। भारतीय रेलवे ने राजस्थान, हरियाणा और पंजाब के रेल यात्रियों के लिए एक और वंदे भारत एक्सप्रेस की घोषणा की है।

राजस्थान के लोगों को रेलवे की तरफ से बड़ी सौगात मिली है। भारतीय रेलवे ने राजस्थान के लिए चौथी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को चलाने का एलान किया है। ये नई वंदे भारत ट्रेन जयपुर से चंडीगढ़ के बीच चलने वाली है। चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा दोनों प्रदेशों की राजधानी है और केंद्र शासित प्रदेश है। हालांकि इस ट्रेन की तारीख अभी तय नहीं हुई है। लेकिन माना जा रहा है विधानसभा चुनाव से पहले ही इसका लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों किया जाएगा।

कुछ अलग होगी यह वंदे भारत

सूत्र बताते हैं वंदे भारत की यह ट्रेन अब तक चलाई जा रही वंदे भारत ट्रेनों से कुछ अलग होगी। फिलहाल जोधपुर से साबरमती, जयपुर से उदयपुर और अजमेर-जयपुर से दिल्ली के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चल रही है। रेलवे के अंबाला डिवीजन में चंडीगढ़-जयपुर रेल ट्रैक पर भी पिछले कुछ समय से वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के संचालन की मांग उठ रही है। नई ट्रेन चलने से ना केवल यात्रियों का समय बचेगा, बल्कि उन्हें ट्रेन में कई आधुनिक सुविधा भी मिलेगी। रेलवे बोर्ड की तरफ से जल्द ही इस ट्रेन का शेड्यूल और किराया घोषित होगा।

राजस्थान-एमपी में विधानसभा चुनाव

भारतीय रेलवे ने रतलाम-बांसवाड़ा-डूंगरपुर रेल लाइन का काम भी फिर से शुरू कर दिया है। मध्यप्रदेश और राजस्थान सरकार से रेलवे ने अधिग्रहित की गई जमीन मांगी है। इस 192 किलोमीटर लंबी रेल लाइन पर अब 6000 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किए जाएंगे। चार साल पहले रेलवे ने इसे बंद कर दिया था। इसे चुनावी साल में फिर से शुरू किया गया है। सीएम अशोक गहलोत लगातार इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरते आ रहे थे। राजस्थान, मध्यप्रदेश दोनों राज्यों में चुनाव होने हैं इसलिए भी केंद्र की नजर इस ओर गई है।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments