ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
कुल्लू,शिमला घूमने जा रहे हैं..? तो रुक कर पहले हिमाचल के मौसम का हाल पढ़ें...

कुल्लू में भारी बारिश के चलते बाढ़ में बह गई एक कार को क्रेन से बाहर निकाला गया

मौसम

कुल्लू,शिमला घूमने जा रहे हैं..? तो रुक कर पहले हिमाचल के मौसम का हाल पढ़ें...

मौसम//Himachal Pradesh/Shimla :

हिमाचल प्रदेश के कई जिलों में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है हिमाचल प्रदेश के बागी और मंडी समेत कई इलाकों में लगातार हो रही मुसलाधार बारिश और बादल फटने की वजह से बाढ़ आ गई है। बाढ़ को देखते हुए मंडी-कुल्लू नेशनल हाइवे को बंद कर दिया गया है। पिछले 48 घंटों में लगातार बारिश के कारण हिमाचल प्रदेश के विभिन्न इलाकों, खासकर मंडी जिले में जलभराव हो गया है और अचानक बाढ़ आ गई है।

इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज और कल के लिए मंडी जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। हिमाचल प्रदेश के आईएमडी निदेशक सुरेंद्र पॉल ने कहा, "पिछले 48 घंटों में बड़े पैमाने पर बारिश हुई है। पिछले 24 घंटों में मंडी जिले में सबसे अधिक बारिश हुई है। अभी भी बारिश हो रही है। यह स्थिति लगभग 4-5 दिनों तक बनी रहेगी।"

स्थानीय मौसम विभाग ने 27 और 28 जून को अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश, आंधी और बिजली गिरने और 27-29 जून तक गरज के साथ बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अगले कुछ दिनों में सिरमौर, सोलन, शिमला, बिलासपुर, ऊना, हमीरपुर, मंडी और कांगड़ा जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

समय से पहले मानसून ने दी दस्तक

हिमाचल प्रदेश में दक्षिण-पश्चिम मानसून ने समय से कुछ दिन पहले ही शनिवार को दस्तक दे दी, जिस वजह से राज्य के कई इलाकों में भारी बारिश हुई। हिमाचल प्रदेश में आमतौर पर 28 जून से 29 जून के आसपास दक्षिण-पश्चिम मानसून दस्तक देता है, लेकिन इस साल अधिकारियों ने शनिवार 24 जून को ही इसका आगमन हो जाने की पुष्टि कर दी है।

हिमाचल में 301 सड़कें बंद , सड़कें अवरूद्ध,यात्री परेशान

भारी बारिश के बीच हिमाचल में 301 सड़कें बंद कर दी गयी हैं ,हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के औट में भीषण बारिश से अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग अवरुद्ध होने से यहां सैकड़ों यात्री फंस गए। भारी बारिश के कारण औट के करीब खोतीनाला में पंडोह-कुल्लु मार्ग पर अचानक बाढ़ आ गई।बाढ़ के कारण यात्री रविवार शाम से फंसे हुए हैं।

कांगड़ा के धर्मशाला में सबसे अधिक 106.6 मिलीमीटर बारिश हुई।इसके बाद कतौला में 74.5 मिलीमीटर, गोहर में 67 मिलीमीटर, मंडी में 56.4 मिलीमीटर, पोंटा साहिब में 43 मिलीमीटर और पालमपुर में 32.2 मिलीमीटर बारिश हुई।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments