गुड न्यूज! कम होगी गर्मी, बिहार-झारखंड में आज राहत की बारिश

मौसम

गुड न्यूज! कम होगी गर्मी, बिहार-झारखंड में आज राहत की बारिश

मौसम//Delhi/New Delhi :

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में 29 मई तक अत्यधिक गर्मी जारी रहने की उम्मीद है। इस भीषण गर्मी के कारण हिमाचल प्रदेश, असम और मेघालय की पहाड़ियां भी प्रभावित हो रही हैं।

देश में के कई हिस्सों में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है। राजस्थान में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर तापमान 53 के पार पहुंच चुका है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार अत्यधिक गर्मी के कारण राजस्थान और हरियाणा के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है, जबकि पंजाब में अगले दो दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट है, जिसके बाद रेड अलर्ट भी जारी किया जाएगा।
मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी राजस्थान के फलौदी में अधिकतम तापमान 51 डिग्री सेल्सियस रहा। राजस्थान में अगले 3-4 दिनों तक इसी तरह का तापमान रहने की उम्मीद है, इसलिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। बता दें कि राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश और गुजरात के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। जो सभी आयु समूहों के लिए गर्मी से संबंधित बीमारियों और हीटस्ट्रोक की “बहुत अधिक संभावना” का संकेत देता है।
मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में 29 मई तक अत्यधिक गर्मी जारी रहने की उम्मीद है। इस भीषण गर्मी के कारण हिमाचल प्रदेश, असम और मेघालय की पहाड़ियां भी प्रभावित हो रही हैं।
अगले 24 घंटे का मौसम
स्काईमेट वेदर के अनुसार अगले 24 घंटे के दौरान, बांग्लादेश और पूर्वोत्तर भारत में मध्यम बारिश और गरज के साथ कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। केरल, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में मध्यम बारिश और गरज के साथ कुछ भारी से बहुत भारी बारिश की उम्मीद है। तमिलनाडु, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।
तापमान में हल्की गिरावट की संभावना
कोंकण और गोवा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, बिहार, झारखंड और उत्तरी ओडिशा में हल्की बारिश संभव है। गुजरात और राजस्थान के अधिकतम तापमान में और गिरावट आ सकती है। 28 मई को राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गंभीर लू की स्थिति हो सकती है और धीरे-धीरे कम हो सकती है।
बड़े शहरों में उभरता बड़ा खतरा
सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट ने देश के 6 शहरों- दिल्ली, बेंगलुरु, चेन्नै, हैदराबाद, कोलकाता और मुंबई को लेकर एक स्टडी की है। इस स्टडी में पाया है कि सिर्फ तापमान नहीं बढ़ रहा है, बल्कि हवा, जमीनी सतह का तापमान और नमी मिलकर इन शहरों को असहनीय गर्मी की तरफ धकेल रहे हैं। 41 डिग्री का हीट इंडेक्स लोगों के लिए घातक माना जाता है। 
हीट मैनेजमेंट प्लान बनाने की जरूरत 
इस बदलाव को देखते हुए दिन और रात के लिए हीट मैनेजमेंट प्लान बनाने की जरूरत है। जरूरी है कि लू के समय इमरजेंसी उपाय किए जाएं। इस प्रकोप को कम करने के लिए लॉन्ग टर्म प्लान बने। इसके लिए ग्रीन एरिया और वॉटरबॉडी बढ़ाने, बिल्डिंग का थर्मल कंफर्ट सुधारने, गाड़ियों से निकलने वाली गर्मी को कम करने, एसी और इंडस्ट्री पर फोकस करने की जरूरत है। जनवरी 2001 से अप्रैल 2024 के बीच स्टडी में तुलना की गई है।
आपके यहां कब दस्तक देगा मॉनसून
मौसम विभाग के अनुसार चार दिनों में साउथ वेस्ट मॉनसून केरल में एंट्री कर लेगा। देश के ज्यादातर हिस्सों में मॉनसून सामान्य या इससे बेहतर ही रहेगा। मॉनसून कोर जोन (कृषि प्रधान राज्यों) में मॉनसून के चार महीनों जून से सितंबर तक सामान्य से अधिक बारिश होने के आसार हैं। कोर जोन में मध्य प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश और वेस्ट बंगाल शामिल हैं। पिछले महीने आईएमडी ने देश भर में सामान्य से अधिक बारिश का अनुमान जताया था।
मॉनसून आने की संभावित तारीखें
➤ केरल: 31 मई या 1 जून
➤ दिल्ली-एनसीआर: 30 जून से 2 जुलाई के बीच
➤ यूपी: 18 से 20 जून के बीच

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments