आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की द्वादशी तिथि रात 08:43 बजे तक तदुपरांत त्रयोदशी तिथि प्रारंभ यानी गुरुवार, 18 जुलाई 2024
आजम खान और उनके करीबी के 30 से ज्यादा ठिकानों पर आयकर की छापेमारी जारी

क्राइम

आजम खान और उनके करीबी के 30 से ज्यादा ठिकानों पर आयकर की छापेमारी जारी

क्राइम //Uttar Pradesh /Lucknow :

आयकर विभाग आजम खान और उनके करीबियों के यहां छापेमारी कर रही है। गुरुवार को भी छापेमारी चलती रही है। शुक्रवार को आयकर विभाग की छापेमारी चलेगी।

सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री नेता आजम खान के रामपुर स्थित आवास पर आयकर विभाग के छापे की कार्रवाई लगातार दूसरे दिन गुरुवार को भी जारी रही। विभाग ने बुधवार को खान और उनसे जुड़े लोगों के खिलाफ कर चोरी की जांच के तहत उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 30 से अधिक स्थानों पर छापेमारी की कार्यवाही शुरू की थी।

छापे के सिलसिले में रामपुर पहुंचे अपर आयकर निदेशक (जांच) धु्रव कुमार ने खान के आवास पर विभाग की कार्यवाही जारी होने की पुष्टि की, लेकिन उन्होंने यह जांच कब तक जारी रहेगी और उसमें अभी तक क्या सामने आया है, इन सवालों का जवाब देने से मना करते हुए कहा कि पूछताछ चल रही है। अभी हम कुछ बता नहीं सकते। आवास पर करीब एक घंटे तक रहे कुमार ने मीडिया के सवालों से बचते हुए कहा कि जांच जब खत्म हो जाएगी, तब सबको पता चल जाएगा।
बुधवार से चल रही है छापेमारी
गौरतलब है कि आयकर विभाग ने बुधवार को आजम खान और उनसे जुड़े लोगों के खिलाफ कर चोरी की जांच के तहत उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 30 से अधिक स्थानों पर छापेमार कार्रवाई शुरू की थी। खान के रामपुर स्थित आवास पर बुधवार सुबह सात बजे से ही आयकर विभाग की टीम मौजूद है।
यहां चल रही छापेमारी
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग ने उत्तर प्रदेश के रामपुर, सहारनपुर, लखनऊ, गाजियाबाद और मेरठ के अलावा पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश के कुछ परिसर में छापेमारी की है। यह कार्रवाई सपा नेता आजम खान और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा संचालित कुछ न्यास और संगठनों से संबंधित है।
आजम खान की करीबी एकता के गाजियाबाद आवास पर भी छापा
गाजियाबाद में आयकर विभाग ने राजनगर कॉलोनी स्थित एक आवास पर छापेमारी की थी। यह घर एकता कौशिक का है, जो आजम खान के परिवार की करीबी बताई जाती हैं। रामपुर की एमपी-एमएलए अदालत ने पिछले साल आजम खान को नफरत भरा भाषण देने के एक अन्य मामले में दोषी ठहराया था। यह मामला वर्ष 2019 में मिलक कोतवाली क्षेत्र के खटानगरिया गांव में एक सार्वजनिक बैठक में दिए गए खां के सम्बोधन से सम्बन्धित था। इस मामले में उन्हें तीन साल कैद की सजा सुनाई गई थी। रामपुर से 10 बार विधायक रह चुके आजम खान को सजा सुनाए जाने के बाद उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए अयोग्य घोषित कर दिया गया था।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments