आज है विक्रम संवत् 2081 के वैशाख माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 06:47 बजे तक बुधवार 21 मई 2024
इजरायल का ईरान पर पलटवार शुरू: न्यूक्लियर साइट वाले शहरों में धमाके

आपदा

इजरायल का ईरान पर पलटवार शुरू: न्यूक्लियर साइट वाले शहरों में धमाके

आपदा//Delhi/New Delhi :

ईरान के इसाफहान शहर के एयरपोर्ट पर भी धमाके की आवाज सुनी गई है। इस शहर में कई न्यूक्लियर प्लांट हैं। ईरान का सबसे बड़ा यूरेनियम प्रोग्राम भी इसी जगह से चल रहा है। इन धमाकों के बाद कई फ्लाइटों को डाइवर्ट किया गया।

इजरायल ने शुक्रवार को ईरान के कई शहरों पर मिसाइलों से हमला किया है। कहा जा रहा है कि ईरान के परमाणु प्लांट पर भी मिसाइल गिरी है। ईरान के न्यूक्लियर साइट पर तीन मिसाइलों के गिरने की खबर है। ईरान की सरकारी न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ये हमला शुक्रवार तड़के हुआ है। 
ईरान के इसाफहान शहर के एयरपोर्ट पर भी धमाके की आवाज सुनी गई है। इस शहर में कई न्यूक्लियर प्लांट हैं। ईरान का सबसे बड़ा यूरेनियम प्रोग्राम भी इसी जगह से चल रहा है। इन धमाकों के बाद कई फ्लाइटों को डाइवर्ट किया गया है। ईरान ने इस हमले के बाद कई प्रांतों में अपने एयर डिफेंस सिस्टम को एक्टिव कर दिया है।
ईरान ने की कई फ्लाइट सस्पेंड
इस हमले के बाद ईरान ने तेहरान, इसाफहान और शिराज जा रही सभी फ्लाइटों को सस्पेंड कर दिया गया है। कम से कम आठ फ्लाइटों को डाइवर्ट किया गया है। इजरायल के इस संभावित हमले से पहले ही ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर ने गुरुवार को चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था कि अगर इजरायल काउंटर अटैक करता है तो ईरान तुरंत उसका मुंहतोड़ जवाब देगा।
जब ईरान ने इजरायल पर दागी थी मिसाइलें
बता दें कि ईरान ने 13 अप्रैल की आधीरात को इजरायल पर मिसाइल और ड्रोन अटैक किए थे। ईरान ने इजरायल पर 300 से ज्यादा अलग-अलग तरह के ड्रोन हमले किए थे, जिनमें किलर ड्रोन से लेकर बैलिस्टिक मिसाइल और क्रूज मिसाइलें शामिल थी। इस हमले के तुरंत बाद इजरायली सेना ने एयर डिफेंस सिस्टम को एक्टिवेट कर दिया था। इजराली सेना आईडीएफ के प्रवक्ता रियर एडमिरल डेनियल हगारी ने बताया था कि ईरान ने इजरायल पर सीधे हमला किया है। इजरायल ने एरो एरियल डिफेंस सिस्टम के जरिए इन अधिकतर मिसाइलों को मार गिराया है। कहा गया कि इजरायल ने ईरान के 99 फीसदी हवाई हमलों को विफल कर दिया था। इस हमले के बाद अमेरिका और ब्रिटेन सहित कई देश इजरायल की मदद को आगे आए थे। 
ईरान ने इजरायल पर क्यों किया था हमला?
एक अप्रैल को सीरिया में ईरान के वाणिज्य दूतावास पर हमला किया गया था। इस हमले में ईरान ने अपने एक टॉप कमांडर सहित कई सैन्य अधिकारियों की मौत का दावा किया गया था। ईरान ने इस हमले के लिए सीधे तौर पर इजरायल को जिम्मेदार ठहराया था। यही वजह है कि उसने बदला लेने के लिए इजरायल पर ताबड़तोड़ हमले किए और इस कार्रवाई को ऑपरेशन ट्रू प्रॉमिस का नाम दिया था। ईरान का कहना है कि उसने ‘ऑपरेशन ट्रू प्रॉमिस’ इसलिए कोडनेम दिया है ताकि वो अपने दोस्तों और दुश्मनों को बता सके कि वो जो भी कहता है उस पर अमल करता है। वो सच्चा वादा करना जानता है। जो वादा करता है, उसे निभाता है।
 

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments