आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह पूर्णिमा तिथि दोपहर 03:46 तक बजे तक यानी रविवार, 21 जुलाई 2024
कमलनाथ ने आज  भाजपा में शामिल होने की खबर पर कर दिया  खुलासा !

कमलनाथ ने भाजपा में शामिल होने की खबर पर खुलासा 

राजनीति

कमलनाथ ने आज  भाजपा में शामिल होने की खबर पर कर दिया खुलासा !

राजनीति//Madhya Pradesh/Indore :

लोकसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही कांग्रेस पार्टी को विभिन्न राज्यों में झटके का सामना करना पड़ रहा है। महाराष्ट्र जैसे राज्यों में अशोक चव्हाण हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं। इसके बाद मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का बीजेपी के खेमे में शामिल होने के खबरें सुनाई दे रहीं थीं।  उनका नाम मध्य प्रदेश और दिल्ली में चल रहा है। इसी चर्चा पर खुद कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है।

कमलनाथ ने क्या सफाई दी?
मीडिया प्रतिनिधियों ने कमलनाथ से पूछा कि क्या वह भाजपा में शामिल होंगे। उसने पूछा। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कमलनाथ ने कहा, "अगर मेरे मन में पाला बदलने का कोई विचार है तो मैं पहले मीडिया को सूचित करूंगा। कमलनाथ ने भाजपा में शामिल होने की संभावना से इनकार नहीं किया। इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'संभावना को खारिज करने का सवाल ही नहीं उठता। मीडिया प्रतिनिधि उत्साहित हो रहे हैं। हालांकि मैं उत्साहित नहीं हूं। लेकिन अगर मेरी पाला बदलने की कोई योजना है, तो मैं उन्हें सूचित करूंगा।

छिंदवाड़ा निर्वाचन क्षेत्र के दौरे पर
कमलनाथ पिछले कुछ दिनों से अपने विधानसभा क्षेत्र छिंदवाड़ा के दौरे पर थे। वह एक ही निर्वाचन क्षेत्र से नौ बार चुने गए हैं। कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ हेडखिल 2019 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से चुने गए थे. 2019 में भाजपा की लहर थी। भाजपा ने 28 अन्य सीटों पर जीत दर्ज की थी। हालांकि छिंदवाड़ा सीट पर नकुलनाथ ने जीत दर्ज की थी।

दिग्विजय सिंह ने क्या कहा?
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ के भाजपा में शामिल होने की संभावना पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, 'मैंने कमलनाथ से बात की है। कमलनाथ ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत कांग्रेस से की थी। वह हमेशा गांधी परिवार के पक्ष में रहे हैं। जब बसपा ने इंदिरा गांधी को जेल में डाला था तब वह गांधी परिवार के साथ थे। क्या आपको लगता है कि ऐसा व्यक्ति कांग्रेस और गांधी परिवार को छोड़ देगा?

राहुल गांधी ने कमलनाथ का विरोध किया
मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा। हार के बाद कमलनाथ को राज्यसभा का टिकट मिलने की उम्मीद थी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कहा जाता है कि राहुल गांधी ने कमलनाथ की उम्मीदवारी का भी विरोध किया था। इन सब कारणों से कमलनाथ परेशान बताए जा रहे हैं।

प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाया
इस बीच कांग्रेस के विधानसभा चुनाव हारने के बाद कमलनाथ को बर्खास्त कर दिया गया। उन्हें मध्य प्रदेश प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। भाजपा ने इस चुनाव में 230 सीटों में से कुल 163 सीटें जीती थीं। कांग्रेस केवल 66 सीटें जीत सकी।
 

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments