'किंगखान का नौसैनिकों की रिहाई से कोई लेनादेना नहीं'...,सुब्रमण्यम स्वामी को शाहरुख़ खान का ऑफिशियल जवाब 

शाहरुख खान और कतर के प्रधानमंत्री की सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर

राजनीति

'किंगखान का नौसैनिकों की रिहाई से कोई लेनादेना नहीं'...,सुब्रमण्यम स्वामी को शाहरुख़ खान का ऑफिशियल जवाब 

राजनीति//Rajasthan/Jaipur :

बीजेपी नेता और पूर्व सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट कर हलचल मचा दी । स्वामी ने अपने पोस्ट में कहा था कि भारत का विदेश मंत्रालय कतर के शेख को समझाने में विफल रहा था, जिसके बाद मोदी ने शाहरुख खान से मामले में हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया था। इस पर शाहरुख खान के कार्यालय ने सोशल मीडिया पर अफवाहों के बारे में बोला है। शाहरुख के ऑफिस की मैनेजर पूजा ददलानी ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट किया। उन्होंने कहा, 'कतर में भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारियों की रिहाई से सुपरस्टार शाहरुख खान का कोई लेना-देना नहीं है।

क्या है मामला 

कतर की एक निजी कंपनी के लिए काम करने वाले आठ पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को कतर की एक निचली अदालत ने मौत की सजा सुनाई है। उन्हें कतरी रक्षा एजेंसियों ने 30 अगस्त, 2022 को गिरफ्तार किया था। हालांकि, भारत ने कूटनीतिक तरीके से अपने पूर्व नौसेना अधिकारियों को रिहा कर दिया। आठ लोगों पर जासूसी का आरोप लगाया गया था। कतर द्वारा उसकी सजा सुनाए जाने के बाद भारत ने उसकी रिहाई सुनिश्चित करने के प्रयास शुरू कर दिए। उन्होंने उनके बारे में दस्तावेजों को भी पूरा किया। सभी आठ लोगों की मौत की सजा को बाद में आजीवन कारावास में बदल दिया गया था। हालांकि अब उन्हें रिहा कर दिया गया है। इनमें से सात घर लौट चुके हैं। 
इस बीच, ऐसी अफवाहें हैं कि पूर्व नौसेना अधिकारियों को बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने बचाया था, न कि भारत की कूटनीति से।हालांकि रिहा हुए अधिकारियों ने वापिस आते ही सबसे पहले पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया और कहा कि यदि इस मामले में पीएम दखल न देते तो हमारा बचना नामुमकिन था।  

सुब्रमण्यम स्वामी ने फैलाई थी अफवाह 

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कतर की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। इससे पहले बीजेपी नेता और पूर्व सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट कर हलचल मचा दी । स्वामी ने अपने पोस्ट में कहा था कि भारत का विदेश मंत्रालय कतर के शेख को समझाने में विफल रहा था, जिसके बाद मोदी ने शाहरुख खान से मामले में हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया था। कतरी शेख ने तब अपने पूर्व नौसेना अधिकारियों को रिहा करने की पेशकश की। इसलिए मोदी को कतर जाते समय शाहरुख खान को भी अपने साथ ले जाना चाहिए।

 

क्या है शाहरुख खान का इस केस से कनेक्शन 

वही दूसरी तरफ किंग खान इस बार फिर से सुर्खियां में आ गए हैं। सोशल मीडिया पर शाहरुख खान का एक वीडियो सामने आया है,जिसमे शाहरुख खान को एएफसी एशियन कप के फाइनल के दौरान देखा गया, ये  वीडियो वायरल हो रहा है।शाहरुख को दोहा में होने वाले एफएसी कप के फाइनल में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया है। शाहरुख खान और कतर के प्रधानमंत्री की एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।और विदेश मंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल थानी से मुलाकात की।  बाद में, सोशल मीडिया पर अफवाहें सामने आईं कि शाहरुख ने कतर की जेल में बंद पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को रिहा करने के लिए अपनी पहचान का इस्तेमाल किया था।

 

शाहरुख़ की मैनेजर ने दिया क्लैरिफिकेशन 

अब शाहरुख खान के कार्यालय ने सोशल मीडिया पर अफवाहों के बारे में बोला है। शाहरुख के ऑफिस की मैनेजर पूजा ददलानी ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट किया। उन्होंने कहा, 'कतर में भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारियों की रिहाई से सुपरस्टार शाहरुख खान का कोई लेना-देना नहीं है।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments