आज है विक्रम संवत् 2081 के वैशाख माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 06:47 बजे तक बुधवार 21 मई 2024
लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'भारत रत्न' , पीएम मोदी बोले, बताते हुए भावुक हो रहा हूँ 

लालकृष्ण आडवाणी सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'भारत रत्न' से सम्मानित होंगे

सम्मान/पुरस्कार

लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'भारत रत्न' , पीएम मोदी बोले, बताते हुए भावुक हो रहा हूँ 

सम्मान/पुरस्कार//Delhi/New Delhi :

भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी को भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह इसकी घोषणा की और इसे उनके लिए एक "भावनात्मक क्षण" बताया।पीएम मोदी ने भी उनसे बात की और उन्हें यह सम्मान मिलने पर बधाई भी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्वजनिक जीवन में उनकी विशिष्ट सेवा और पारदर्शिता और अखंडता के प्रति प्रतिबद्धता की प्रशंसा करते हुए घोषणा की कि भाजपा के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा।

एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर एक पोस्ट में, प्रधान मंत्री ने लिखा, “मुझे यह बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि श्री लालकृष्ण आडवाणी जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा। मैंने उनसे बात भी की और इस सम्मान से सम्मानित होने पर उन्हें बधाई दी।”

 

उन्होंने आगे कहा, “हमारे समय के सबसे सम्मानित राजनेताओं में से एक, भारत के विकास में उनका योगदान स्मारकीय है। उनका जीवन जमीनी स्तर पर काम करने से शुरू होकर हमारे उपप्रधानमंत्री के रूप में देश की सेवा करने तक का है। उन्होंने हमारे गृह मंत्री और सूचना एवं प्रसारण मंत्री के रूप में भी अपनी पहचान बनाई। उनके संसदीय हस्तक्षेप हमेशा अनुकरणीय और समृद्ध अंतर्दृष्टि से भरे रहे हैं।''

बता दें कि 8 नवंबर, 1927 को वर्तमान पाकिस्तान के कराची में जन्मे आडवाणी ने 1980 में अपनी स्थापना के बाद से सबसे लंबे समय तक भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया था। लालकृष्ण आडवाणी के नाम बीजेपी का सबसे ज्यादा समय तक अध्यक्ष रहने का रिकॉर्ड भी है। 1989 में लालकृष्ण आडवाणी की रथ यात्रा के बाद भारतीय राजनीति में बीजेपी का ग्राफ तेजी से बढ़ा था। जिस बीजेपी की 1984 के चुनाव में महज दो लोकसभा सीटें थी, वह 1989 के चुनाव में 85 सीटों तक पहुंच गई थी।राजनीति में अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी की जोड़ी खूब जमी, दोनों ने मिलकर पार्टी को इतना आगे बढ़ाया कि 1996 में पहली बार बीजेपी के नेतृत्व में सरकार बनी थी। वीजेपी और राष्ट्र के लिए लालकृष्ण आडवाणी का योगदान अविस्मरणीय है।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments