पीएम मुद्रा लोन की सीमा दोगुनी कर 20 लाख की घोषणा कैंसर की 3 दवाओं पर नहीं लगेगी कस्टम ड्यूटी, निर्मला सीतारमण का ऐलान देश में उच्च शिक्षा के लिए 10 लाख रुपये लोन की घोषणा 'दुकानदारों को अपनी पहचान बताने की जरूरत नहीं'- कांवड़ यात्रा नेमप्लेट विवाद पर सुप्रीम कोर्ट
भारत के इस गांव से सीधे देखो आकाश गंगा का नजारा

पर्यटन

भारत के इस गांव से सीधे देखो आकाश गंगा का नजारा

पर्यटन//Himachal Pradesh/Shimla :

इस गांव की खास बात ये है कि यहां जून में भी जमा देने वाली सर्दी रहती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुनिया के सबसे ऊंचे गांव में जून के महीने में तापमान 7 से 9 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

दिल्ली-नोएडा जैसे शहर में रहने वाले लोग शायद भूल गए हैं कि आसमान में तारे भी होते हैं। इन शहरों में रहने वाले रात को जब आसमान की ओर देखते हैं तो उन्हें सिर्फ अंधेरा ही दिखाई देता है। तारों की चमक, प्रदूषण से इतनी ज्यादा ढक गई है कि वो अब दिल्ली-एनसीआर के आसमान से गायब है। लेकिन इसी देश में एक ऐसा गांव भी है, जहां से आज भी आप आकाश गंगा को देख सकते हैं। इसके अलावा यहां से आपको तारे भी बिल्कुल साफ दिखाई देते हैं। चलिए आपको इस गांव के बारे में बताते हैं, जिसे दुनिया का सबसे ऊंचा गांव कहा जाता है।
सबसे ऊंचाई पर स्थित गांव
भारत में कई जगहें ऐसी हैं, जहां जाकर आपको लगेगा कि आप किसी और ही प्लैनेट पर आ गए हैं। ऐसी ही एक जगह है, कौमिक गांव। ये गांव हिमाचल प्रदेश के स्पीति जिले में स्थित है। इसे दुनिया का सबसे ऊंचा गांव माना जाता है। कहते हैं कि यहां से अगर आप रात में आसमान की ओर देखेंगे तो आपको आकाश गंगा साफ नजर आएगी। इसके साथ ही यहां से तारे इतने बड़े दिखाई देते हैं कि आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते।
जून में जमा देने वाली सर्दी
इस गांव की खास बात ये है कि यहां जून में भी जमा देने वाली सर्दी रहती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुनिया के सबसे ऊंचे गांव में जून के महीने में तापमान 7 से 9 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। इस गांव में ज्यादा आबादी नहीं है। जब आप यहां जाएंगे तो आपको यहां कुछ ही घर दिखाई देंगे। सर्दियों में ये घर भी खाली हो जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि सर्दियों में यहां जीना मुश्किल होता है, इसलिए गांव वाले सर्दियों में तलहटी की ओर चले आते हैं और फिर सर्दियां जैसे ही कम होती हैं अपने घरों की ओर वापिस लौट जाते हैं।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments