ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
चीनी साजिश फेल, भारतीय सेना के साथ अभ्यास करेगी नेपाली आर्मी

सेना

चीनी साजिश फेल, भारतीय सेना के साथ अभ्यास करेगी नेपाली आर्मी

सेना/थल सेना//Kathmandu :

भारतीय सेना का एक दल सूर्य किरण सैन्य अभ्यास में हिस्सा लेने के लिए नेपाल पहुंचा है। यह सूर्यकिरण सैन्य अभ्यास का 16वां संस्करण है। इससे पहले 15वें संस्करण का आयोजन उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में किया गया था। इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं के बीच आपसी संबंधों को मजबूत करना है।

नेपाल को भारत के खिलाफ करने की चीनी साजिश फेल होती नजर आ रही है। सीमा विवादों और हाल के झड़पों के बावजूद भारत और नेपाल की सेनाएं संयुक्त सैन्य अभ्यास करने जा रही हैं। इस सैन्य अभ्यास में भारत और नेपाल के कुल 650 सैनिक हिस्सा लेंगे। इससे पहले केपी शर्मा ओली के कार्यकाल में चीन ने नेपाल पर काफी दबाव बनाया था। चीन के प्रभाव के कारण ही ओली ने नेपाल का विवादित नक्शा जारी किया था, जिसमें भारतीय क्षेत्रों को शामिल किया गया था। बाद में सत्ता परिवर्तन के बाद शेर बहादुर देउबा सरकार ने भारत के साथ संबंधों को सुधारा।
सूर्यकिरण सैन्य अभ्यास का 16वां आयोजन
भारतीय और नेपाली सेना के बीच होने वाले सैन्य अभ्यास का नाम सूर्य किरण है। इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं के बीच दोस्ताना संबंध को और मजबूत बनाना है। यह सूर्य किरण सैन्य अभ्यास का 16वां एडिशन है। सैन्य अभ्यास में हिस्सा लेने के लिए भारतीय सेना का दल बुधवार को नेपाल पहुंचा। यह अभ्यास भारत -नेपाल सीमा के पास रूपनदेही के सालझंडी में होगा।
भारतीय सैनिकों का दल नेपाल पहुंचा
काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास ने बुधवार को ट्वीट किया कि भारतीय सेना का दल 16वां भारत-नेपाल सैन्य अभ्यास ‘सूर्य किरण’ में हिस्सा लेने के लिए आज नेपाल के सालझंडी पहुंचा। यह अभ्यास पेशेवर अनुभवों को आपस में साझा करने और दोनों देशों की सेनाओं के बीच दोस्ती को मजबूत बनाने के लिहाज से एक प्रतिमान है। इसके पहले इस अभ्यास के 15वें संस्करण का आयोजन पिथौरागढ़ में किया गया गया था जिसमें दोनों देशों के 650 सैनिकों ने हिस्सा लिया था।

भारतीय सेना प्रमुख को सम्मानित कर चुका है नेपाल
भारतीय सेनाध्यक्ष मनोज पांडे ने गत सितंबर में नेपाल की यात्रा की थी। इस यात्रा के दौरान जनरल पांडे को राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने नेपाली सेना के जनरल की मानद उपाधि प्रदान करके सम्मानित किया था। नेपाल और भारत के बीच 1850 किलोमीटर लंबी सीमा है जो सिक्किम, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से होकर गुजरती है।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments