पीएम मुद्रा लोन की सीमा दोगुनी कर 20 लाख की घोषणा कैंसर की 3 दवाओं पर नहीं लगेगी कस्टम ड्यूटी, निर्मला सीतारमण का ऐलान देश में उच्च शिक्षा के लिए 10 लाख रुपये लोन की घोषणा 'दुकानदारों को अपनी पहचान बताने की जरूरत नहीं'- कांवड़ यात्रा नेमप्लेट विवाद पर सुप्रीम कोर्ट
नीता अंबानी संभालेंगी देश की सबसे बड़ी मीडिया कंपनी की कमान

आर्थिक

नीता अंबानी संभालेंगी देश की सबसे बड़ी मीडिया कंपनी की कमान

आर्थिक//Maharashtra/Mumbai :

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज और अमेरिका की दिग्गज मीडिया कंपनी वॉल्ट डिज्नी ने भारत में अपने मीडिया ऑपरेशंस का मर्जर करने के लिए फरवरी में एक बाइंडिंग एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए थे। इससे 8.5 अरब डॉलर की कंपनी बनेगी जो भारत में मीडिया एवं एंटरटेनमेंट सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी होगी।

ारत और एशिया के सबसे बड़े रईस मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वायकॉम18 और स्टार इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के विलय के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग से मंजूरी मांगी है। सीसीआई ने शुक्रवार को कहा कि प्रस्तावित लेनदेन का मकसद वायकॉम18 और एसआईपीएल के मनोरंजन व्यवसायों को जोड़ना है। 
वायकॉम18, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ग्रुप का हिस्सा है, जबकि द वॉल्ट डिज्नी कंपनी के पास एसआईपीएल का स्वामित्व है। रेगुलेटर ने कहा कि ट्रांजैक्शन के बाद एसआईपीएल एक जॉइंट वेंचर बन जाएगी, जिसे आरआईएल, वायकॉम18 और टीडब्ल्यूडीसी की सहायक कंपनियों द्वारा संयुक्त रूप से ऑपरेट किया जाएगा। आरआईएल ने नोटिस में कहा कि प्रस्तावित ट्रांजैक्शन से भारत में प्रतिस्पर्धा पर कोई उल्लेखनीय प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा।
हालांकि, सीसीआई के आकलन को सुविधाजनक बनाने के लिए, उन्होंने कई प्रमुख बाजारों की पहचान की है, जहां हॉरिजेंटल ओवरलैप अहम थे। इनमें ऑडियो विजुअल कंटेंट राइट्स का लाइसेंसिंग, ब्रॉडकास्ट टीवी चैनलों का डिस्ट्रीब्यूशन, ऑडियो विजुअल (एवी) कंटेंट का प्रॉविजन और भारत में एडवरटाइजिंग स्पेस की सप्लाई शामिल है। 
एसआईपीएल कई तरह की मीडिया गतिविधियों में संलग्न है। इनमें टीवी प्रसारण, मोशन पिक्चर्स और ओटीटी प्लेटफॉर्म का ऑपरेशन शामिल है। यह अमेरिका की वॉल्ट डिज्नी कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी है। वायकॉम18 भारत और दुनिया भर में टीवी चैनलों के प्रसारण, ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म के ऑपरेशन के बिजनस में है। यह मोशन पिक्चर्स के प्रॉडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन के बिजनस में भी लगी हुई है।
नीता अंबानी होंगी चेयरपर्सन
इसी साल फरवरी में वॉल्ट डिज्नी और रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भारत में अपने मीडिया ऑपरेशंस का मर्जर करने के लिए बाइंडिंग एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए थे। मर्जर के बाद 70,000 करोड़ रुपये (8.5 अरब डॉलर) की विशाल कंपनी बनाई जाएगी। इस डील के पूरा होने के बाद, यह भारतीय मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी। इसके पास कई भाषाओं में 100 से अधिक चैनल, दो प्रमुख ओटीटी प्लेटफॉर्म और देश भर में 750 मिलियन का व्यूअर बेस होगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी इस जॉइंट वेंचर की चेयरपर्सन होंगी, जबकि उदय शंकर वाइस चेयरपर्सन होंगे। रिलायंस और उसकी सहयोगी कंपनियों के पास इस जॉइंट वेंचर में 63.16 फीसदी हिस्सेदारी होगी, जबकि डिज्नी के पास बाकी 36.84 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। रिलायंस ने ओटीटी कारोबार को बढ़ाने के लिए इस जॉइंट वेंचर में करीब 11,500 करोड़ रुपये निवेश करने पर भी सहमति जताई है।

You can share this post!

author

News Thikana

By News Thikhana

News Thikana is the best Hindi News Channel of India. It covers National & International news related to politics, sports, technology bollywood & entertainment.

Comments

Leave Comments