ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
बंधकों की रिहाई तक गाजा में कोई युद्धविराम, कोई ईंधन नहीं: बेंजामिन नेतन्याहू

सेना

बंधकों की रिहाई तक गाजा में कोई युद्धविराम, कोई ईंधन नहीं: बेंजामिन नेतन्याहू

सेना///Tel Aviv :

पीएम नेतन्याहू ने कहा कि हमारे बंधकों की रिहाई के बिना गैसोलीन की एंट्री नहीं होगी, कोई युद्ध विराम नहीं होगा। उन्होंने ईरान समर्थित हिजबुल्लाह को चेतावनी भी दी।

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने मंगलवार को कहा कि जब तक हमास समूहों द्वारा बंधक बनाए गए इजरायलियों को मुक्त नहीं किया जाता, तब तक गाजा को कोई ईंधन नहीं दिया जाएगा और हमास के साथ कोई युद्धविराम नहीं होगा। 
हमास के साथ इजरायल के युद्ध के एक महीने पूरे होने के मौके पर टेलीवाइज बयान में, पीएम नेतन्याहू ने ईरान समर्थित हिजबुल्लाह को चेतावनी दी कि अगर वो लेबनान में अपने बेस से युद्ध में एक नया मोर्चा खोलता है तो वह अपने जीवन की बड़ी गलती करेगा।
अब तक का सबसे बड़ा हमला
इजरायल के अनुसार, 1948 में इसके अस्तित्व के बाद से देश पर सबसे खराब हमले में, हमास के गुर्गों ने लगभग 1,400 लोगों की हत्या कर दी, जिनमें ज्यादातर इजरायली नागरिक थे। वहीं, 240 से अधिक लोगों को बंधक बना लिया गया। 
इजरायल ने दिया करारा जवाब
जवाब में इजरायल ने लगभग 24 लाख लोगों के निवास वाले फिलिस्तीनी क्षेत्र में हमास पर जबरदस्त हमला शुरू कर दिया है। हालांकि, अब जैसे-जैसे संघर्ष अपने दूसरे महीने में प्रवेश कर रहा है, युद्धविराम या लड़ाई में ‘विराम’ की अंतरराष्ट्रीय मांगें बढ़ती जा रही हैं। लेकिन नेतन्याहू ने कहा कि हमारे बंधकों की रिहाई के बिना गैसोलीन की एंट्री नहीं होगी, कोई युद्धविराम नहीं होगा।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments