CM केजरीवाल को कल गिरफ्तार कर सकती है CBI NDA के स्पीकर पद के उम्मीदवार ओम बिरला ने पीएम मोदी से मुलाकात की दिलेश्वर कामत जेडीयू संसदीय दल के नेता होंगे पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने राजनीति छोड़ी, सिक्किम चुनाव में हार के बाद फैसला घाटकोपर होर्डिंग केस: IPS कैसर खालिद सस्पेंड, उनकी इजाजत पर लगा था होर्डिंग पुणे पोर्श कांड: आरोपी नाबालिग को हिरासत से रिहा किया गया लोकसभा के 7 सांसदों ने नहीं ली शपथ, कल स्पीकर चुनाव में नहीं कर सकेंगे मतदान जगन मोहन रेड्डी की पार्टी स्पीकर चुनाव में NDA उम्मीदवार का समर्थन कर सकती है कल सुबह 11 बजे तक के लिए लोकसभा स्थगित स्पीकर चुनाव के लिए बीजेपी ने व्हिप जारी किया, सभी सांसदों को लोकसभा में रहना होगा मौजूद स्पीकर चुनाव: कांग्रेस का व्हिप जारी, कल सभी सांसदों को लोकसभा में मौजूद रहने को कहा आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के कृष्णपक्ष की पंचमी तिथि रात 08:54 बजे तक यानी बुधवार, 26 जून 2024 Jaipur: मैसर्स तंदूरवाला में कार्रवाई के दौरान पायी गयीं भारी अनियमितताएं..लाइसेंस, साफ़ सफाई सहित अन्य दस्तावेज मिले नदारद मायावती का भतीजे आकाश आनंद पर उमड़ा प्रेम, 47 दिन पुराने फैसले को पलट बनाया राष्ट्रीय संयोजक राजस्थान में आषाढ़ माह के चौथे दिन मेवाड़ में छाये बादल, मौसम विभाग भी बोला मानसून का हो गया प्रवेश
मोबाइल चार्जिंग के लिए अब  चार्जर की जरूरत ही नहीं,  कपड़ों से ही हो जाएंगे..!

मोबाइल चार्जिंग के लिए अब चार्जर की जरूरत ही नहीं, कपड़ों से ही हो जाएंगे..!

///London :

मोबाइल फोन को चार्ज करना इसकी शुरुआत से ही बहुत ही ऊबाऊ काम रहा है। सभी मोबाइल फोनों को लिए कभी कॉमन चार्जर की बात होती रही है तो कभी ऐसे चार्जर की जिसमें वह मोबाइल फोन को तेजी से चार्ज कर दे। कभी बार तो ऐसे चार्जर की भी चाहत होती है जो सभी प्रकार के सॉकेट में फिट हो जाएं। अब ऐसी परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए ऐसे कपड़े की खोज की गई है जो चार्जर का काम कर सकता है। इसके जरिये न केवल मोबाइल फोन बल्कि स्मार्टफोन जैसे छोटे गैजेट्स भी चार्ज किये जा सकते हैं।

इस तरह के कपड़ों को ई-टेक्सटाइल का नाम दिया गया है। इसे विकसित किया है नॉटिंघम ट्रेंट यूनिवर्सिटी के एडवांस्‍ड टेक्‍सटाइल्‍स रिसर्च इंस्‍टीट्यूट ग्रुप (ARTG) के वैज्ञानियों ने। उनका बनाया यह कपड़ा विशेष फैब्रिक का बना है। यह इतनी सौर ऊर्जा पैदा कर लेता है जिसकी मदद से आसानी से मोबाइल फोन या स्‍मार्टवॉच को चार्ज किया जा सकता है।
फिलहाल इसे अभी प्रोटोटाइप कहा जा रहा है जिसका भविष्य वाणिज्यिक उत्पादन शुरू किया जा सकता है। इसे बनाने में बहुत छोटे 1,200 फोटोवोल्‍टेइक सेल (सोलर पैनल) का इस्‍तेमाल होता है। ये सूरज की रोशनी से 400 मिलीवॉट इलेक्‍ट्र‍िक एनर्जी बना लेते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस तरह के फैब्रिक को दैनंदिन जीवन के कपड़ों में शामिल किया जाएगा। ऐसे कपड़ों में जैकेट्स या बैकपैक शामिल हैं।

विज्ञानियों के अनुसार कपड़े के छोटे सोलर सेल लंबे समय चलते हैं और इनमें खास तरह की फ्लेक्सिबल वायरिंग की जाती है। इन्‍हें वॉटरप्रूफ पॉलीमर रेसिन में लपेट दिया जाता है। इस तरह फैब्रिक को धुलने पर पानी से इन सोलर सेल को किसी तरह का नुकसान नहीं होता है। हर एक सेल की लंबाई 5 मिमी और चौड़ाई 1.5 मिमी होती है। इससे फैब्रिक आरामदेह होने के साथ चार्जिंग के काम के लिए भी पूरी तरह तैयार होता है।
उल्लेखनीय है कि ई-टेक्‍सटाइल पर पहले भी काम हो चुका है। फिनलैंड में आल्‍टो यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस पर दो दशक तक काम किया। उन्‍हें ऐसा क्‍लोदिंग आइटम बनाने में सफलता मिल चुकी है जिसे प्‍लग में लगाकर चार्ज करना पड़ता था। फिर इससे दूसरे उपकरणों को चार्ज किया जा सकता था। लेकिन, नॉटिंगघम के शोधार्थियों ने जो ई-टेक्‍सटाइल विकसित किया है, उसकी टेक्‍नोलॉजी बिल्‍कुल नई है।
 

You can share this post!

author

राकेश रंजन

By News Thikhana

Comments

Leave Comments