झारखंड के साथ याद आते हैं नोटों के पहाड़, जमशेदपुर में बोले पीएम मोदी आंध्र प्रदेश: नेल्लोर में लॉरी से टकराई RTC बस, हादसे में 2 लोगों की मौत गोवा: BJP नेता बिकम हाथरे को कर्नाटक सीसीबी पुलिस ने किया गिरफ्तार केजरीवाल मौजूदा PM को सीधे चुनौती दे रहे हैं...ये आसान काम नहीं है: सलमान खुर्शीद AAP ने प्रदर्शन के लिए नहीं ली कोई परमिशन, बीजेपी ऑफिस के आसपास लगी रहती है धारा 144: दिल्ली पुलिस BJP मुख्यालय के बाहर 3 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां तैनात, AAP ने किया था प्रदर्शन का ऐलान
पंजाब सीएम भगवंत मान ने ठुकराई केंद्र सरकार की जेड प्लस सिक्योरिटी की सुविधा की पेशकश  

पंजाब सीएम भगवंत मान ने ठुकराई केंद्र सरकार की जेड प्लस सिक्योरिटी की सुविधा की पेशकश  

राजनीति

पंजाब सीएम भगवंत मान ने ठुकराई केंद्र सरकार की जेड प्लस सिक्योरिटी की सुविधा की पेशकश  

राजनीति//Punjab/ :

बीते सप्ताह ही केंद्र सरकार ने अमृतपाल सिंह की गिरफ्तारी के बाद हालात को देखते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को जेड प्लस सुरक्षा ऑफर दी थी | जिसे सीएम मान ने लेने से इनकार कर दिया है। मान ने कहा है कि उन्हें पंजाब और दिल्ली में जेड प्लस सुरक्षा की जरूरत नहीं है। उनके लिए पंजाब पुलिस और सीएम सुरक्षा की स्पेशल टीम ही काफी है।

दिल्ली और पंजाब में मेरे पास पर्याप्त सिक्योरिटी 
इन दोनों हे राज्यों में आम आदमी पार्टी कि सरकार है। मान ने अपने पत्र में कहा कि भारत के बाकी राज्यों में वे 
जेड प्लस सुरक्षा की सुविधा लेंगे लेकिन दिल्ली और पंजाब में उन्हें इसकी ज़रूरत नहीं ,इन दोनों जगह उन्हें जो सुरक्षा मिलती है उसमे कोई कमी नहीं है। मान ने हाल ही में गुजरात ,महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल कि यात्रा की थी। 

केंद्र सरकार ने की थी पेशकश 
25 मई को ही केंद्र सरकार ने मान को जेड प्लस सुरक्षा देने का फैसला किया था। केंद्र सरकार ने यह फैसला वीवीआई पी सुरक्षा से संबंधित खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार पर लिया था। मान की सुरक्षा टीम ने बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर अपना पक्ष भेज दिया और जेड प्लस सिक्योरिटी लेने से इनकार कर दिया है। 

यहां उल्लेखनीय है कि दिल्ली में सेवाओं के अधिकार को लेकर आम आदमी पार्टी केंद्र सरकार से खफा है। पिछले दिनों दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल एवं पंजाब के सीएम भगवंत मान नीति आयोग की बैठक में भी नहीं गए। साथ ही आप ने नये संसद भवन के उद्घाटन समारोह का भी बहिष्कार किया था। केजरीवाल की पार्टी इन दिनों अध्यादेश के खिलाफ दलों को एक करने के लिए विभिन्न राजनेताओं से मिल रहे हैं।

You can share this post!

author

सौम्या बी श्रीवास्तव

By News Thikhana

Comments

Leave Comments