पंजाब में कांग्रेस को बड़ा झटका, तेजिंदर सिंह बिट्टू कांग्रेस छोड़ थामेंगे BJP का दामन एलन मस्क का भारत दौरा फिलहाल टला, 21-22 अप्रैल को आने वाले थे टेस्ला के सीईओ ओडिशा नाव हादसे में 4 की डूबकर मौत, रेस्क्यू टीमें 7 लापता लोगों की कर रहीं खोज आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे बैतूल: ट्रक की टक्कर से पलटी सुरक्षाकर्मियों से भरी बस, चुनाव ड्यूटी करके लौट रहे थे जवान केरल में त्रिशूर पूरम उत्सव का जश्न, लोगों ने की आतिशबाजी पाकिस्तान को बड़ा झटका, अमेरिका ने बैलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम के लिए आपूर्ति करने वाली 4 कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध पीएम नरेंद्र मोदी आज कर्नाटक के बेंगलुरु और चिक्काबल्लापुरा में करेंगे जनसभा को संबोधित अमेरिका के ग्रीनबेल्ट स्थित पार्क में गोलीबारी, हाईस्कूल के पांच छात्र घायल आज महाराष्ट्र में नांदेड़ और परभणी में पीएम मोदी की रैली, करेंगे जनसभा को संबोधित कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज 20 अप्रैल को भागलपुर में करेंगे रैली प्रियंका गांधी आज 20 अप्रैल को करेंगी केरल का दौरा IPL 2024: लखनऊ ने घरेलू मैदान में चेन्नई को हराया पहले चरण में रात 9 बजे तक 62.37% वोटिंग, 102 सीटों पर हुआ चुनाव ईरान-इजरायल तनाव: ग्लोबल स्तर पर सोने की कीमतों में 1.5 फीसद का उछाल पश्चिम बंगाल: कूच बिहार के चंदामारी में मतदान केंद्र के सामने पथराव आज है विक्रम संवत् 2081 के चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि रात 10:41 बजे तक यानी शनिवार 20 अप्रेल 2024
रावी का पानी रोका... अब पाकिस्तान नहीं जम्मू-कश्मीर व पंजाब जाएगा पानी

राजनीति

रावी का पानी रोका... अब पाकिस्तान नहीं जम्मू-कश्मीर व पंजाब जाएगा पानी

राजनीति//Punjab/Chandigarh :

रावी का पानी पाकिस्तान की ओर जाना बंद हो गया है और पानी रोकने के लिए बनाए गए पंजाब में शाहपुर कंडी बांध के गेट बंद कर दिए गए हैं। इसके साथ ही बांध में जल भंडारण होना शुरू हो चुका है। बांध में करीब 400 फुट तक जलस्तर पहुंचने के बाद ही पानी सिंचाई के लिए छोड़ा जाएगा और इसके जरिए जम्मू-कश्मीर व पंजाब की भूमि संचित की जाएगी।

आखिर रावी का पानी पाकिस्तान की ओर जाना बंद हो गया है। रावी का पानी रोकने के लिए बनाए गए पंजाब में शाहपुर कंडी बांध के गेट बंद कर दिए गए हैं और इसके साथ ही बांध में जल भंडारण आरंभ हो गया है। बांध में करीब 400 फुट तक जलस्तर पहुंचने के बाद ही पानी सिंचाई के लिए दिया जाएगा। रावी नदी के पानी पर हमारा हक है पर इसका कुछ हिस्सा बहकर पाकिस्तान चला जाता था।  
जम्मू-कश्मीर व पंजाब को मिलेगा इतना पानी
इससे जम्मू-कश्मीर की 32 हजार हेक्टेयर और पंजाब की पांच हजार हेक्टेयर भूमि संचित होनी है। यह भूमि पर्याप्त पानी न मिलने के कारण बंजर हो रही थी। शाहपुर कंडी परियोजना से जम्मू-कश्मीर को 1150 क्यूसेक पानी मिलेगा और पंजाब को 200 क्यूसेक पानी मिलेगा। इसके साथ ही 200 मेगावाट बिजली उत्पादन का भी लक्ष्य रखा गया है। हालांकि जम्मू-कश्मीर के किसानों को उनके हिस्से का पानी मिलने में कुछ समय लग सकता है क्योंकि बांध से पानी पहुंचाने के लिए बन रही 1378 मीटर लंबी नहर का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। 
केंद्र सरकार का सपना होने जा रहा साकार
जम्मू-कश्मीर को उसके हिस्से का पानी दिलाने के लिए केंद्र सरकार ने 2018 में शाहपुर-कंडी परियोजना का शिलान्यास किया था। इस परियोजना के लिए करीब 2793 करोड़ रुपये की लागत आई है। केंद्र सरकार के विशेष सहयोग और लगातार निगरानी से यह सपना साकार होने जा रहा है। वर्ष 1979 में रणजीत सागर बांध के निर्माण के दौरान जम्मू-कश्मीर के किसानों को उनके हक का पानी दिलाने का वादा किया गया था, लेकिन पंजाब वादे से पलट गया।
जम्मू-कश्मीर ने यह पानी लेने के लिए करीब 60 किलोमीटर लंबी रावी-तवी नहर का निर्माण भी वर्ष 1996 में कर लिया था। वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नई सरकार बनने के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने इस मुद्दे को लगातार उठाया और केंद्र ने इस परियोजना के लिए केंद्रीय सहायता उपलब्ध कराई।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments