आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह पूर्णिमा तिथि दोपहर 03:46 तक बजे तक यानी रविवार, 21 जुलाई 2024
रूस को फिर झटका: अब प्रशांत महासागर में गिरा रूसी फाइटर जेट मिग-31

सेना

रूस को फिर झटका: अब प्रशांत महासागर में गिरा रूसी फाइटर जेट मिग-31

सेना///Moscow :

रूसी सेना ने अपने बयान में कहा कि मिग-31 विमान कामचटका प्रायद्वीप के दक्षिणपूर्वी तट पर अवचा खाड़ी में गिर गया।

रूस को झटके पर झटका मिल रहा है। मुल्क में हड़कंप मचा हुआ है और सेना को नुकसान उठाना पड़ रहा है। एक और रूसी फाइटर जेट प्रशांत महासागर में गिर गया है। इस दौरान दो पायलटों का पता नहीं चल सका है। उनकी तलाश जारी है। रूस का एक मिग-31 लड़ाकू विमान प्रशिक्षण अभियान के दौरान प्रशांत महासागर के ऊपर दुर्घटनाग्रस्त हो गया और इसके दो पायलट के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। उनकी तलाश की जा रही है। रूसी सेना ने अपने बयान में कहा कि मिग-31 विमान कामचटका प्रायद्वीप के दक्षिणपूर्वी तट पर अवचा खाड़ी में गिर गया। 
दुर्घटना का कारण नहीं चल सका पता
इसमें कहा गया कि बचाव दल विमान के चालक दल के दो सदस्यों की तलाश कर रहा है। सेना ने कहा कि विमान में हथियार नहीं थे। इसने तुरंत कोई और विवरण नहीं दिया और यह भी नहीं बताया कि दुर्घटना का कारण क्या हो सकता है। मिग-31 दो सीट वाला दोहरे इंजन से सुसज्जित सुपरसोनिक लड़ाकू विमान है, जिसे लंबी दूरी से दुश्मन के विमानों और क्रूज मिसाइलों को रोकने के लिए डिजाइन किया गया है। यह 1980 के दशक से सोवियत और रूसी वायुसेना को सेवा दे रहा है।
स्विट्जरलैंड में भी हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त
गौरतलब है कि मंगलवार को ही स्विट्जरलैंड में भी एक हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। एयरलाइन एयर जर्मेट का यह हेलीकॉप्टर लैंडिंग के दौरान हादसे का शिकार हुआ। सार्वजनिक प्रसारक एसआरएफ ने बताया कि रोटर ब्लेड ने जमीन को छुआ, जिससे हेलीकॉप्टर एक तरफ झुक गया था। यह हादसा इटली की सीमा के नजदीक ग्निफेटी चोटी के पास हुआ। एयरलाइन जर्मेट के अनुसार, हेलीकॉप्टर में तीन ग्लेशियोलॉजिस्ट, एक पायलट और एक उड़ान सहायक सवार था। 

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments