चीनी एयरलाइंस के मेन्यू में दिखी ऐसी डिश कि मच गया हड़कंप, लोग कर रहे थू-थू

अजब-गजब

चीनी एयरलाइंस के मेन्यू में दिखी ऐसी डिश कि मच गया हड़कंप, लोग कर रहे थू-थू

अजब-गजब///Beijing :

चीनी एयरलाइंस में अगर आप कभी सफर करें तो वहां पर भोजन के बारे में सोच-समझकर ऑर्डर कीजिएगा। ऐसा न होने पर आपको पछताना पड़ सकता है।

अगर आप महंगा टिकट लेकर किसी प्लेन के बिजनेस क्लास में सफर कर रहे हों और भोजन का वक्त आने पर एयर होस्टेस आपके सामने ‘इंपोर्टेड डॉग फूड’ का मेन्यू कार्ड पेश करे तो आपकी क्या हालत होगी। कुत्ते का भोजन सुनकर यकीनन आपकी हालत खराब हो जाएगी। लेकिन चीन की फ्लाइट और रेस्टरेंट्स में ऐसा होना आम बात है। इसके पीछे एक बड़ी वजह उनका अंग्रेजी का कमजोर ज्ञान भी है, जो अर्थ का अनर्थ कर देता है। 
इसी तरह की घटना कॉनराड वू नाम के एक यात्री के साथ हुई। वे चीन ईस्टर्न एयरलाइंस के बिजनेस क्लास में सफर कर रहे थे। तभी लंच टाइम होने पर एयर होस्टेस ने उन्हें भोजन के लिए मेन्यू कार्ड पेश किया, जिसमें ‘इंपोर्टेड डॉग फूड’ लिखा देखकर वे दंग रह गए। उन्होंने उस मेन्यू कार्ड का फोटो खींचकर अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर पोस्ट किया और लोगों से उस पर प्रतिक्रिया देने को कहा। कुछ ही समय में उनकी पोस्ट पर टिप्पणियों की बाढ़ आ गई। 
‘कुत्तों का भोजन अब भी कुत्तों से बेहतर’
एक सोशल मीडिया यूजर ने टिप्पणी करते हुए कहा कि कुत्तों का भोजन अब भी कुत्तों से बेहतर है। कुत्तों को फ्लाइट में नहीं ले जाया सकता लेकिन उनका भोजन सप्लाई किया जा सकता है। एक यूजर ने एयरलाइंस पर तंज कसते हुए कहा कि कंपनी ने साबित कर दिया है कि उसकी फ्लाइट में सफर करने वाले लोग कुत्ते हैं। 
एक और सोशल मीडिया यूजर ने भी अपने कमेंट में एयरलाइंस की जमकर धज्जियां उड़ाईं। यूजर ने लिखा कि अगर आप मेन्यू को ध्यान से देखें तो उसमें 90 प्रतिशत से ज्यादा का इंग्लिश ट्रांसलेशन गलत लिखा हुआ दिख रहा है। यह एक इंटरनेशनल एयरलाइंस के लिए बड़ा मजाक है। 
कमजोर अंग्रेजी उड़ा रही चीनियों की हंसी
ऐसा पहली बार नहीं है कि चीनियों की कमजोर अंग्रेजी की वजह से उनकी हंसी उड़ रही हो। इससे पहले भी कई बार ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। वर्ष 2019 में उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने चीनी भोजन मेन्यू की एक तस्वीर शेयर की थी, जिसमें एक डिश के आगे अंग्रेजी में ‘स्वादिष्ट भुना हुआ पति’ लिखा था। उस तस्वीर के साथ आनंद महिंद्रा ने कैप्शन लिखा था, ‘मैं अपनी पत्नी को इस रेस्त्रां में ले जाने से पहले कई बार सोचूंगा। मैं नहीं चाहूंगा कि मेरी पत्नी को ऐसा कोई रचनात्मक विचार मिले।’ 
क्यों होती हैं भाषा की ऐसी गलतियां?
फूड राइटर एमिली मोनाको ने डिश की अंग्रेजी ट्रांसलेशन में होने वाली गलतियों की वजहों से अवगत करवाया था। मोनाको के मुताबिक इस तरह की गलतियां भाषा के कमजोर ज्ञान और फूड एक्सपर्ट न होने की वजह से होती हैं। ऐसे ट्रांसलेशन करने वाले लोग अपना दिमाग लगाए बिना शाब्दिक ट्रांसलेट कर डालते हैं, जिससे अर्थ का अनर्थ हो जाता है। वे बताती हैं कि क्यूबा में कटे हुए बीफ से बनी डिश को स्थानीय भाषा में ‘रोपा विएजा’ कहा जाता है लेकिन अंग्रेजी में ट्रांसलेट करने पर उसका अर्थ पुराने/फटे कपड़े निकलकर सामने आता है। जिसके चलते काफी लोग उसे खाना पसंद नहीं करते।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments