आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की द्वादशी तिथि रात 08:43 बजे तक तदुपरांत त्रयोदशी तिथि प्रारंभ यानी बुधवार, 18 जुलाई 2024
सोमवार 8 अप्रेल को लगेगा साल का पहला सूर्यग्रहण, भारत में कब लगेगा सूतक,.जानिये सब कुछ ...

अजब-गजब

सोमवार 8 अप्रेल को लगेगा साल का पहला सूर्यग्रहण, भारत में कब लगेगा सूतक,.जानिये सब कुछ ...

अजब-गजब//Delhi/New Delhi :

कल सोमवार यानी 8 अप्रैल 2024 को चैत्र नवरात्रि से एक दिन पहले वर्ष का पहला सूर्यग्रहण लगने वाला है। यह ग्रहण  5 घंटे और 25 मिनट तक चलेगा। इस तरह 54 वर्षं के दौरान यह सबसे लंबा सूर्यग्रहण होगा। 

 

 


 

सूर्यग्रहण सोमवार, 8 अप्रेल को भारतीय समय के अनुसार रात 9:12 बजे से देर रात 2:22 बजे तक रहने वाला है। यह सूर्यग्रहण भारत में नहीं देखा जाएगा और ज्योतिषों का कहना है कि इसीलिए  यहां पर न ही सूतक काल के नियम लागू होंगे और न ही पूजा-पाठ समेत दिनचर्या को लेकर के किसी भी काम में पाबंदी रहेगी। इस तरह का लंबे पूर्ण सूर्यग्रहण का संयोग 54 साल बाद बन रहा है जो इससे पहले वर्ष 1970 में बना था।

किन देशों में दिखाई देगा सूर्यग्रहण? 

कल लगने वाला सूर्यग्रहण आर्कटिक, मेक्सिको, दक्षिण अमेरिका के उत्तरी भागों में, उत्तरी अमेरिका (अलास्का को छोड़कर), पश्चिमी यूरोप, पेसिफिक,  इंग्लैंड के उत्तर पश्चिम क्षेत्र मध्य अमेरिका, आयरलैंड, अटलांटिक और कनाडा जैसे देशों में दिखाई देगा। दुनियाभर के जिन भी हिस्सों में सूर्यग्रहण लगेगा वहां सोलर सिस्टम में मौजूद शुक्र और गुरु भी देखे जा सकेंगे। इसके अलावा सूर्यग्रहण के दौरान धूमकेतु तारा भी एकदम साफ नजर आएगा। 

नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) 8 अप्रैल को सूर्य ग्रहण की लाइवस्ट्रीमिंग करने वाला है। इसे   https://eclipse-explorer.smce.nasa.gov पर क्लिक कर सीधा देखा जा सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि  सूर्यग्रहण को कभी भी नग्न आंखों के साथ नहीं देखना चाहिए. इससे आंखों को नुकसान पहुंचता है. इन्हें नुकसान से बचाने के लिए आप खास तरह के ग्लास या ऑप्टिकल्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नासा की चेतावनी

इस बीच नासा ने एक बड़ी चेतावनी दी है। सूर्य ग्रहण की तस्वीर खींचने के लिए जो लोग स्मार्टफोन या अपने डिजिटल कैमरा का इस्तेमाल करना चाहते हैं, उनके लिए यह वॉर्निंग बेहद जरूरी है। दरअसल नासा ने यूट्यूबर मार्केस ब्राउनली के सवालों का जवाब दिया। नासा का कहना है कि फोन का सेंसर किसी भी अन्य इमेज सेंसर की तरह सूर्य की ओर करने से क्षतिग्रस्त हो सकता है। दरअसल ब्राउनली ने एक ट्वीट में कहा, 'मैं अपने जीवन में इस बात का कोई निश्चित उत्तर नहीं ढूढ़ पाया हूं कि सूर्य ग्रहण की ओर करने से सेंसर फ्राई हो जाएगा या नहीं। खुद ही इसका वास्तविक उत्तर पता लगाने के लिए एक ऐसा फोन लेने का मन हो रहा है, जिसकी मुझे जरूरत नहीं। इसे विज्ञान के नाम पर मैं 5 मिनट के लिए सूर्य की ओर इंगित करूंगा।'

नासा ने जवाब देते हुए कहा कि इस घटना को खींचने के लिए उचित फिल्टर की जरूरत है। नासा ने एक्स पर इसके जवाब में लिखा, 'हमने अपनी नासा फोटो टीम से इस बारे में पूछा। इसका जवाब है हां, फोन का सेंसर किसी भी दूसरे इमेज सेंसर की तरह क्षतिग्रस्त हो सकता है अगर सीधे इसे सूर्य की ओर इंगित किया जाएगा तो। यह तब और भी सच हो जाता है जब आप किसी भी तरह के मैग्नीफाइन लेंस का इस्तेमाल कर रहे होते हैं। आपको किसी भी अन्य कैमरे की तरह जरूरी फिल्टर का इस्तेमाल करना होगा।'

You can share this post!

author

News Thikana

By News Thikhana

News Thikana is the best Hindi News Channel of India. It covers National & International news related to politics, sports, technology bollywood & entertainment.

Comments

Leave Comments