UP: लखनऊ मे एंटी भू माफिया सेल का गठन, अवैध तरीके से जमीन कब्जाने वालों पर होगा एक्शन VHP ने UP पुलिस से की देवबंद के खिलाफ एक्शन की मांग, गजवा-ए-हिंद के समर्थन का आरोप जमीन हड़पने के मामले में ED ने TMC नेता शाहजहां शेख के खिलाफ दर्ज किया एक और मामला महाराष्ट्र के पूर्व सीएम मनोहर जोशी का हार्ट अटैक से निधन किसानों को करनी होगी सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की भरपाई: हरियाणा पुलिस MP: अनूपपुर में जंगली हाथी के हमले में एक शख्स की मौत, 2 लोग घायल
भारत का इकलौता ऐसा रेलवे स्टेशन, जहां जाने के लिए वीजा भी चाहिए और पासपोर्ट भी... 

अजब-गजब

भारत का इकलौता ऐसा रेलवे स्टेशन, जहां जाने के लिए वीजा भी चाहिए और पासपोर्ट भी... 

अजब-गजब//Punjab/Amritsar :

स्टेशन को अटारी श्याम सिंह रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाता है, स्टेशन पंजाब के अमृतसर जिले में मौजूद है, लेकिन फिर भी यहां जाने के लिए पकिस्तान वीजा की जरूरत पड़ती है। आखिर क्या है बड़ी वजह।  

ये तो हम सभी जानते हैं, इंडियन रेलवे दुनिया के सबसे बड़े रेलवे में आता है, भारत में कुल 7325 रेलवे स्टेशन हैं, जिनके नाम आप शायद जानते भी नहीं होंगे। लेकिन क्या आप ये जानते थे कि एक ऐसा रेलवे स्टेशन भी है, जहां जाने के लिए वीजा और पासपोर्ट दोनों लगते हैं। जी हां, ये वो स्टेशन है, जहां पहुंचने के लिए भारतीयों को पाकिस्तानी वीजा की जरूरत पड़ती है। इस वीजा के बिना आप यहां कदम भी नहीं रख सकते। इस स्टेशन को अटारी श्याम सिंह रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाता है। स्टेशन पंजाब के अमृतसर जिले में स्थित है, जो उत्तर रेलवे के फिरोजपुर रेलवे के अधिकार क्षेत्र में आता है। 
भारत में रहते हुए लगता है पाकिस्तानी वीजा 
ये जगह भारत का हिस्सा है, लेकिन यहां जाने के लिए पकिस्तान से अनुमति लेनी पड़ती है। जो लोग मेंटेनेंस के काम से जाते हैं, या फिर जिनको इसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जाती है, उन्हें भी सरकारी इजाजत मिली होती है। यहां अगर आप जबरदस्ती घूमते हुए पाए जाते हैं, तो आपको जेल भी जाना पड़ सकता है और जुर्माना भी भरना पड़ेगा। इस स्टेशन पर जबरदस्ती घुसने की कोशिश अगर आप करते हैं, तो आप पर फॉरेन एक्ट के सेक्शन 14 के अंतर्गत मामला दर्ज हो सकता है। अगर ऐसा होता है और आप दोषी पाए जाते हैं, तो जमानत भी बेहद मुश्किल से दी जाएगी और फौजदारी का मुकदमा चलाया जा सकता है। 
टिकट खरीदने के लिए देना पड़ेगा पासपोर्ट नंबर
यहां से जाने वाली इकलौती अंतरराष्ट्रीय ट्रेन समझौता एक्सप्रेस थी। अगर आप इसका टिकट खरीदना चाहते हैं, तो पहले आपको पासपोर्ट नंबर देना होगा। असल में, इस रेलवे स्टेशन को समझौता एक्सप्रेस के लिए ही खोलते हैं। शायद आप जानते ना हो, लेकिन अगर ये ट्रेन लेट होती है, तो पाकिस्तान और भारत दोनों के ही रजिस्टर में ट्रेन एंट्री लिखी जाती थी। हालांकि, आपको दिल्ली-अटारी एक्सप्रेस, अमृतसर-अटारी डीईएमयू, जबलपुर-अटारी स्पेशल ट्रेन, आदि भी यहां देखने को मिलेंगी, लेकिन इनमें से कोई अटारी-लाहौर लाइन से नहीं गुजरती।
कब बंद हुआ था ये स्टेशन
ये स्टेशन 8 अगस्त, 2019 को बंद कर दिया गया था, उस समय से ही समझौता एक्सप्रेस को भी बंद कर दिया गया था। बता दें, ये कदम पाकिस्तान की ओर से उठाया गया था और इसके पीछे की वजह थी जम्मू कश्मीर के आर्टिकल 370 का खत्म होना। जिस दौरान ये ट्रेन अटारी स्टेशन से जाया करती थी, तब यात्रियों की अच्छे से चेकिंग की जाती थी और कुछ मिनट के बाद पकिस्तान के पहले स्टेशन वाघा पर भी दो बारा से चेकिंग होती थी।
भारत का है आखिरी रेलवे स्टेशन 
अटारी पंजाब की तरफ से हिंदुस्तान का आखिरी रेलवे स्टेशन है। इसके एक ओर अमृतसर तो दूसरी तरफ लाहौर है। ये स्टेशन ज्यादा बड़ा नहीं है, लेकिन इसकी भूमिका बहुत बड़ी है। ट्रेन बंद होने के बाद भी इस स्टेशन पर काम चलता रहता है, लेकिन फिर भी लोगों को आसानी से जाने की अनुमति नहीं है।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments