ट्रेनी IAS पूजा खेडकर पर बड़ी कार्रवाई, UPSC ने दर्ज कराया केस NEET पेपर लीक केस: सॉल्वर बनने वाले सभी 4 स्टूडेंट्स को सस्पेंड करेगा पटना AIIMS माइक्रोसॉफ्ट सर्वर ठप: हैदराबाद एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के लिए इंडिगो स्टाफ ने हाथ से लिखे बोर्डिंग पास बिलकिस बानो केस: 2 दोषियों की अंतरिम जमानत याचिका पर विचार करने से SC का इनकार आज है विक्रम संवत् 2081 के आषाढ़ माह के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि सायं 05:59 बजे तकयानी शनिवार, 20 जुलाई 2024
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम...रूस की जान को नया बवाल, जिसे यूक्रेन भेज रहा अमेरिका

सेना

वैम्पायर रॉकेट सिस्टम...रूस की जान को नया बवाल, जिसे यूक्रेन भेज रहा अमेरिका

सेना/वायुसेना//Washington :

यह हथियार किसी छोटी गाड़ी पर भी फिट किया जा सकता है। अमेरिका के इस ऐलान से रूस की चिंता बढ़ गई है। रूस पहले से ही अमेरिका से यूक्रेन को मिले हुए हिमार्स रॉकेट सिस्टम से परेशान है।

अमेरिका ने यूक्रेन को वैम्पायर रॉकेट सिस्टम देने का ऐलान किया है। इस हथियार का इस्तेमाल यूक्रेनी सेना रूस के खिलाफ युद्ध में कर सकेगी। यह हथियार किसी छोटी गाड़ी पर भी फिट किया जा सकता है। अमेरिका के इस ऐलान से रूस की चिंता बढ़ गई है। रूस पहले से ही अमेरिका से यूक्रेन को मिले हुए हिमार्स रॉकेट सिस्टम से परेशान है।
यूक्रेन को वैम्पायर रॉकेट सिस्टम देगा अमेरिका
अमेरिका ने एक बार फिर यूक्रेन के लिए हथियारों के नए पैकेज का ऐलान किया है। इसमें वैम्पायर रॉकेट सिस्टम भी शामिल है। यह एक ऐसा वेपन सिस्टम है, जिसका इस्तेमाल रूसी ड्रोन से निपटने के लिए किया जा सकता है। रूस ने ड्रोन हमले कर यूक्रेन को भारी नुकसान पहुंचाया है। रूसी ड्रोन का सबसे अधिक निशाना राजधानी कीव बनी है।
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम क्या है
वैम्पायर एक शॉर्ट फॉर्म है। इसका पूरा नाम व्हीकल एग्नोस्टिक मॉड्यूलर पैलेटाइज्ड आईएसआर रॉकेट इक्विपमेंट है। इसी को शॉर्ट में वैम्पायर कहते हैं। वैम्पायर एक पोर्टेबल हथियार प्रणाली है, जो 70 मिमी लेजर गाइडेड रॉकेट जैसे एडवांस्ड प्रिसिजन किल वेपन सिस्टम (एपीकेडब्ल्यूएस) को फायर करने में सक्षम है।
चार रॉकेट फायर कर सकता है
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम में एक रॉकेट लॉन्चर जुड़ा होता है, जो चार रॉकेट को फायर कर सकता है। यह सिस्टम इंडिपेंडेंट स्टेब्लाइज्ड साइटिंग सिस्टम के साथ इंट्रीग्रेटेड होता है। इसी सिस्टम के जरिए लक्ष्यों की पहचान की जाती है।
पिकअप पर लगाया जा सकता है वैम्पायर सिस्टम
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम को किसी कार्गो ट्रक, पिकअप ट्रक पर लगाया जा सकता है। इसे एक निश्चित स्थिति में स्थापित किया जाता है। यह सिस्टम अपने आप घूम नहीं सकता है। वैम्पायर रॉकेट सिस्टम का इस्तेमाल दुश्मनों के ड्रोन को निशाना बनाने और मार गिराने में किया जा सकता है। इसे बनाने वाली कंपनी का दावा है कि यह हथियार जमीनी खतरों से भी बचाव कर सकता है।
वैम्पायर सिस्टम कौन बनाता है
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम को अमेरिकी कंपनी एल3हैरिस टेक्नोलॉजीज बनाती है। एल3हैरिस ने जनवरी में घोषणा की कि अमेरिकी रक्षा विभाग ने उन्हें यूक्रेनी सेना के लिए 14 वैम्पायर रॉकेट सिस्टम बनाने के लिए 40 मिलियन डॉलर का ठेका दिया था। वैम्पायर के एक रॉकेट की कीमत 27,500 डॉलर है।
वैम्पायर रॉकेट सिस्टम की रेंज कितनी है
रूसी सैन्य विशेषज्ञ यूरी नुतोव के अनुसार, वैम्पायर रॉकेट सिस्टम लगभग पांच किलोमीटर की दूरी तक हवाई लक्ष्यों पर हमला कर सकते हैं।

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments