पंजाब में कांग्रेस को बड़ा झटका, तेजिंदर सिंह बिट्टू कांग्रेस छोड़ थामेंगे BJP का दामन एलन मस्क का भारत दौरा फिलहाल टला, 21-22 अप्रैल को आने वाले थे टेस्ला के सीईओ ओडिशा नाव हादसे में 4 की डूबकर मौत, रेस्क्यू टीमें 7 लापता लोगों की कर रहीं खोज आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे बैतूल: ट्रक की टक्कर से पलटी सुरक्षाकर्मियों से भरी बस, चुनाव ड्यूटी करके लौट रहे थे जवान केरल में त्रिशूर पूरम उत्सव का जश्न, लोगों ने की आतिशबाजी पाकिस्तान को बड़ा झटका, अमेरिका ने बैलिस्टिक मिसाइल प्रोग्राम के लिए आपूर्ति करने वाली 4 कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध पीएम नरेंद्र मोदी आज कर्नाटक के बेंगलुरु और चिक्काबल्लापुरा में करेंगे जनसभा को संबोधित अमेरिका के ग्रीनबेल्ट स्थित पार्क में गोलीबारी, हाईस्कूल के पांच छात्र घायल आज महाराष्ट्र में नांदेड़ और परभणी में पीएम मोदी की रैली, करेंगे जनसभा को संबोधित कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज 20 अप्रैल को भागलपुर में करेंगे रैली प्रियंका गांधी आज 20 अप्रैल को करेंगी केरल का दौरा IPL 2024: लखनऊ ने घरेलू मैदान में चेन्नई को हराया पहले चरण में रात 9 बजे तक 62.37% वोटिंग, 102 सीटों पर हुआ चुनाव ईरान-इजरायल तनाव: ग्लोबल स्तर पर सोने की कीमतों में 1.5 फीसद का उछाल पश्चिम बंगाल: कूच बिहार के चंदामारी में मतदान केंद्र के सामने पथराव आज है विक्रम संवत् 2081 के चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि रात 10:41 बजे तक यानी शनिवार 20 अप्रेल 2024
यूपी पेपर लीक मामले का आरोपी नीरज यादव गिरफ्तार

क्राइम

यूपी पेपर लीक मामले का आरोपी नीरज यादव गिरफ्तार

क्राइम //Haryana/Chandigarh :

उत्तर प्रदेश में हुए यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है। साथ ही, सीएम योगी आदित्यनाथ ने पेपर लीक के आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आदेश जारी कर दिया है। इस बीच एसटीएफ एक्शन लेने की तैयारियां में जुट चुकी है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को निरस्त कर दिया है। साथ ही उन्होंने पेपर लीक के आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी आदेश जारी कर दिया है। इस बीच एक अहम जानकारी सामने आई है। दरअसल सिपाही भर्ती परीक्षा पेपर के दौरान बलिया का रहने वाला नीरज यादव जो गिरफ्तार हुआ है, वह इससे पहले मर्चेंट नेवी में नौकरी करता था। हालांकि उसने नौकरी छोड़ दी थी। नीरज को उत्तर कुंजी मथुरा के रहने वाले एक शख्स ने भेजी थी। अब एसटीएफ इस मामले की जांच में जुट चुकी है। 
यूपी पेपर लीक मामले में अहम खुलासे
पुलिस सूत्रों के मुताबिक 17 और 18 फरवरी को परीक्षा के दौरान नकल करने वाले अभ्यर्थियों और उनके मददगारों की एसटीएफ ने एक लिस्ट बनाई है। गिरफ्तार आरोपियों के पास पेपर कैसे पहुंचा उसका ब्रीफ तैयार कर एसटीएफ नेटवर्क को खंगाल रही है। वहीं गाजियाबाद से गिरफ्तार महिला अभ्यर्थी रिया चैधरी को नकल कराने वाले गुरबचन के गैंग लीडर मोनू मलिक और कपिल की तलाश में एसटीएफ जुट गई है। बता दें कि मोनू मलिक और कपिल पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में पेपर लीक करने वाले गैंग के सरगना हैं।
कौन है नीरज यादव, क्या है मथुरा कनेक्शन
रिया चैधरी को ब्लूटूथ के जरिए नकल कराने की कोशिश की जा रही थी। रिया का गुरबचन के जरिए ही कपिल और मोनू से संपर्क हुआ था। गुरबचन को महिला अभ्यर्थी और उसके भाई के साथ पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, लखनऊ के कृष्णानगर से 18 फरवरी को नकल करते हुए पकड़े गए अभ्यर्थी सत्य अमन को व्हाट्सऐप पर पेर भेजने वाले नीरज यादव के नेटवर्क को भी खंगाला जा रहा है। लखनऊ पुलिस अभ्यर्थी सत्य अमन और उसके साथी नीरज याजव को 19 फरवरी को ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि पूछताछ में नीरज ने बताया कि मथुरा के उपाध्याय के जरिए उसे यह पेपर मिला। लेकिन यह उपाध्याय कौन है और कहां रहता है, नीरज को इसकी जानकारी नहीं है। 

You can share this post!

author

Jyoti Bala

By News Thikhana

Senior Sub Editor

Comments

Leave Comments